उन्नाव रेप केस: डॉक्टर की संदिग्ध हालात में मौत, पीड़िता के पिता का किया था इलाज

0
case
case

उन्नाव रेप केस की पीड़िता के पिता का ट्रीटमेंट करने वाले डॉक्टर का संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है, डॉक्टर प्रशांत उपाध्याय वही डॉक्टर थे जिन्होंने उन्नाव केस में पीड़िता के पिता का इलाज किया था। रेप केस पीड़िता के पिता को मारपीट के बाद जिला अस्पताल लाया गया था तब डॉक्टर प्रशांत उपाध्याय ही इमरजेंसी में थे और इन्होंने ही पीड़िता के पिता को जेल भेज दिया था।

रेप केस पीड़िता के पिता मारपीट हुई थी वो गंभीर रूप से घायल हो गए थे और उन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। तब डॉक्टर प्रशांत उपाध्याय ही इमरजेंसी में मौजूद थे। लेकिन अचानक से डॉक्टर प्रशांत उपाध्याय की मौत हो जाना काफी ही आशर्यजनक है। खबर के अनुसार डॉक्टर प्रशांत उपाध्याय डायबिटीज से ग्रस्त थे। हालांकि कल दिल्ली के तीज हज़ारी कोर्ट में उन्नाव रेप केस पर सुनवाई भी होनी थी उसके एक दिन पहले ही डॉक्टर प्रशांत उपाध्याय की मृत्यु होना काफी ही खटकता है। पुलिस जांच में जुट गयी है की आखिर क्या था मौत का असल कारण? प्रतीत यह भी हो रहा है की यह कोई साजिश भी हो सकती है।

यह भी बता दे की डॉक्टर प्रशांत उपाध्याय को सस्पेंड कर दिया गया था। इस मामले पर विवाद बहुत हद तक बढ़ गया था और पुलिस ने इसकी जांच भी शुरू कर दी थी। इससे पहले पिछले हफ्ते पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ उन्नाव रेप मामले में ट्रक की टक्कर से घायल वकील महेंद्र सिंह की सेहत की रिपोर्ट एम्स ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल कर दी।

यह भी पढें : गुजरात में दलित लड़की के साथ रेप के बाद हत्या

बीजेपी के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को 2017 के उन्नाव रेप केस में उम्रकैद की सजा सुनाई गयी यह सजा दिल्ली की अदालत में पिछले महीने सुनाई गयी। कोर्ट ने साथ ही कुलदीप सेंगर पर 25 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया. जिसके तहत10 लाख रुपये पीड़िता को दिए मिलेंगे और 15 लाख रुपये प्रॉसिक्यूशन को दिए जाएंगे।