सर्दियों में एसिडिटी को न ले हल्के में, हो सकता है हार्ट अटैक का खतरा

0
एसिडिटी
सर्दियों में एसिडिटी को न ले हल्के में, हो सकता है हार्ट अटैक का खतरा

हार्ट अटैक एक ऐसी बीमारी है जिसके बारें में ऐसा कहा जाता है कि वह पल भर में किसी भी इंसान की जान ले सकती है. सर्दियों में हार्ट अटैक के केस बढ़ जाते है. और इसके शिकार औरतों से ज्या मर्द होते है. साइलेंट हार्ट अटैक के लक्षण इतने सामान्य होते हैं. लोग आमतौर पर इन्हें सामान्य समस्या समझ कर नजरंदाज कर देते हैं और फिर परिणाम बुरा होता है.

हार्ट अटैक आने पर सीने में तेज दर्द होता है, लेकिन हर बार ऐसा नहीं होता है कई बार सीने में हल्की हल्की जलन, दबाव के लक्षणों के साथ हार्ट अटैक होता ही है. इसके लिए आपको इससे होने वाले सामान्य सी चीजो को ध्यान में रखना होगा आईए हम आपको इसके लक्षणों के बारें में बताते है. जिससे बाद इससे बचाव किया जा सके.

जबड़े में दर्द होना
बिना किसी कैविटी या दांत की प्रॉबलम के यदि जबड़े में दर्द हो रहा है औऱ साथ ही सीने में भी दर्द हो रहा है, तो ये गंभीर संकेत हैं. आपको तुरंत ही किसी अच्छे डॉक्टर के पास जाना चाहिए.

बायीं बांह में दर्द की लहर
सीने का दर्द फैलकर अगर बायीं बांह में फैल गया है, तो देर करने की जरूरत नहीं है. हो सकता है कि ये सर्दी का दर्द हो लेकिन अगर यह लगातार हो रहा है. तो घबराहट हो रही है. तो भी आप डॉक्टर के पास जाएं.

पैरों में सूजन कई बार सर्दी की वजह से भी पैरों में सूजन आ जाती है. लेकिन यदि पैरों के साथ साथ एड़ियों में भी सूजन आ जाए और चलने फिरने में दर्द होने लगे तो डॉक्टर के पास जाने की जरूरत है. दरअसल हार्ट अटैक से पहले ब्लड पंप करना कम करता है औऱ उसके चलते पैरों में ब्लड का सर्कुलेशन कम होता है औऱ सूजन आ जाती है.

एसिडिटी
एसिडिटी होना बड़ी बात नहीं है. ज्यादा तला खाने के बाद ये हो जाती है औऱ फिर ईनो लेने के बाद ठीक भी हो जाती है. लेकिन आपकी एसिडिटी यदि ईनो या कोई औऱ दवा लेने के बाद भी ठीक नहीं हो रही है तो डॉक्टर के पास जाइए। ये हार्ट अटैक का संकेत हो सकता है.

होठों के नीचे नीलापन
अगर आपके होंठ एकाएक नीलापन लिए नजर आ रहे हैं तो डॉक्टर के पास संपर्क करें. हार्ट अटैक से पहले रक्त के पर्याप्त सकुर्लेशन में बाधा होने के कारण होठों के नीचे सही से ब्लड नहीं पहुंच पाता और वो नीले होने लगते हैं.

सीने में दबाव, घबराहट
भरी सरदी में भी अगर आपको घबराहट हो रही है और सीने में दबाव महसूस हो रहा है तो ध्यान दीजिए, ऐसे में कमजोरी फील होती है औऱ चक्कर भी आने लगते हैं, ऐसा हो रहा है तो तुरंत ही डॉक्टर के पास जाएं.

यह भी पढ़ें : इन संकेतों से आप डिप्रेशन का पता लगा सकते है

सांस लेने में दिक्कत
हार्ट अटैक आने से पहले दिल अपना काम सही ढंग से नहीं कर पा रहा होता. ऐसे में फेफड़ों तक पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाती और सांस लेने में दिक्कत होने लगती है. इसलिए अगर ऐसी दिक्कत हो रही है तो आप इसके लिए एक अच्छे डॉक्टर को दिखाएं.