दिल्ली के इस मेट्रो स्टेशन का नाम बदलकर किया जाएगा सुप्रीम कोर्ट मेट्रो स्टेशन

अभी तक हम सबने उत्तर प्रदेश में ही नाम बदलने के बारें में सुना था। अब दिल्ली में भी यह होने जा रहा है। आपको बता दें कि अगले साल फ़रवरी में दिल्ली में चुनाव होने है इसलिए दिल्ली के कई जगहों पर नामो की फेर बदल हो रही है। इसी कड़ी में दिल्ली के प्रसिद्ध ‘प्रगति मैदान मेट्रो स्टेशन’ का नाम बदलकर ‘सुप्रीम कोर्ट मेट्रो स्टेशन’ कर दिया गया इसकी घोषणा मंगलवार (31 दिसंबर) को राज्य की आप सरकार ने की।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रिपोर्टों की पुष्टि की और कहा कि सरकार ने कई अनुरोध प्राप्त करने के बाद यह निर्णय लिया। कारगिल युद्ध में अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीद के सम्मान में मुकरबा चौक और फ्लाईओवर का भी नाम बदलकर ‘कैप्टन विक्रम बत्रा चौक’ कर दिया गया।

राष्ट्रीय राजधानी में आज एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, सिसोदिया ने कहा कि मेट्रो ट्रेन की घोषणाओं में ऑडियो बदलने सहित पूरी नाम बदलने की प्रक्रिया एक महीने में की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि बदरपुर-महरौली रोड सहित कई सड़कों का नाम बदल दिया गया है।

उन्होंने कहा कि बदरपुर-महरौली रोड का नाम आचार्य श्री महाप्रज्ञ मार्ग होगा।

कैबिनेट मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि क्षेत्रों में रहने वाले लोग, जो कि अशिक्षित सूची में थे, को वैसा ही शुल्क देना होगा, जैसा कि विद्युतीकृत क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को लगता है।

उन्होंने कहा, “पहले विद्युतीकृत क्षेत्रों और गैर-विद्युतीकृत क्षेत्रों में अलग-अलग बिजली दरों का इस्तेमाल किया जाता था। अब, गैर-विद्युतीकृत क्षेत्रों की दरों को विद्युतीकृत क्षेत्रों के बराबर कर दिया गया है। एक साल में लोगों से लिए गए अतिरिक्त शुल्क वापस कर दिए जाएंगे।”

यह भी पढ़ें: योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर किया हमला कहा, दलितों और वंचितों के सबसे बड़े विरोधी

डीएमआरसी के एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि इस साल मार्च में दिलशाद गार्डन-नई बस अडडा रुट पर दो स्टेशनों का नाम बदलकर देश के शहीद नायकों के सम्मान में रखा गया था। अधिकारी ने कहा, ‘राजेंद्र नगर मेट्रो स्टेशन को’ मेजर मोहित शर्मा राजेंद्र नगर स्टेशन ‘के रूप में फिर से शुरू किया गया है और अंतिम स्टेशन को’ न्यू बस अडडा ‘का नाम बदलकर’ शहीदस्थल ‘(नया बस अड्डा) कर दिया गया है।