जानिए इन फिल्मों में विलेन्स के किरदारों को निभाने के लिए किन एक्टर्स को किया था पसंद

0
जानिए इन फिल्मों में विलेन्स के किरदारों को निभाने के लिए किन एक्टर्स को किया था पसंद

बॉलीवुड में कब और कैसे इंसान की किस्मत चमक जाती है इस बात का अंदाजा लगा पाना बहुत ही मुश्किल है. ऐसा कहा जाता है कि सिनेमा की ये दुनिया हर चीज में एकदम ही अलग है. ये जितनी आपको मुश्किले देती है उतना ही नाम और शोहरत भी देती है. सालों से बॉलीवुड फिल्मों में कई बदलाव आते जा रहे हैं. लेकिन वो एक चीज जो आज तक नहीं बदली वो है विलेन पर हीरो की जीत.


कई दशकों से हीरो विलेन्स को हमेशा मात देते आ रहे है. लेकिन फिल्मी दुनिया के बहुत से ऐसे विलेन भी है जो फिल्मों में हीरो से हारने के बावजूद भी उनसे ज्यादा पॉपुलर हुए है. कुछ ऐसे भी विलेन्स है, जिनका दर्शकों पर काफी जबरदस्त इम्प्रैशन पड़ा और ये आइकॉनिक बन गए.

आज के दौर में इन आइकॉनिक विलेन्स का किरदार निभाने वाले एक्टर्स की जगह किसी और को सोच भी पाना बहुत ही मुश्किल है. लेकिन क्या आप जानते है कि इन फेमस विलेन के किरदारों को निभाने के लिए पहले अलग एक्टर्स को चुना गया था? आइये आपको बताते कुछ ऐसी फिल्में जिनके लिए पहली बार में विलन के रोल के लिए इन एक्टर को चुना गया था.


गब्बर सिंह – फिल्म शोले
बॉलीवुड के टॉप आइकॉनिक विलेन्स में से एक गब्बर सिंह को आज भी याद किया जाता है. ड़ाकू के रोल में अमजद खान को देखने के बाद किसी और को उनकी जगह सोच पाना मुश्किल है. लेकिन क्या आपको पता है कि गब्बर का रोल अमजद खान से पहले डैनी डेनजोंग्पा को दिया गया था? असल में ये किरदार लिखा ही डैनी के लिए गया था. डैनी अपने वक्त के सबसे ज्यादा मशहूर विलेन थे और उनके पास कई सारी फिल्मों के ऑफर थे. ‘शोले’ की शूटिंग लगातार लेट होने की वजह से डैनी को डेट्स की समस्या हो गई और न चाहते हुए भी उन्हें गब्बर का रोल छोड़ना पड़ा.

मोगैम्बो – मिस्टर इंडिया
फिल्म मिस्टर इंडिया में अमरीश पुरी की एक्टिंग लोगों को काफी पंसद आई थी. उनकी बड़ी-बड़ी आंखें और दमदार आवाज ने उनके इस किरदार को भयंकर तो बनाया ही साथ ही दर्शकों के दिल और दिमाग में भी बसा दिया. वहीं आपको ये जानकर हैरानी होगी कि एक्टर अनुपम खेर को ये रोल सबसे पहले दिया गया था. लेकिन एक-दो महीने के बाद फिल्मकार शेखर कपूर ने अनुपम को हटाकर अमरीश पुरी को ये रोल दिया और अमरीश ने कमाल कर दिखाया.


राहुल मेहरा – डर
फिल्म डर में राहुल मेहरा का किरदार निभाने के बाद ही शाहरुख खान को फिल्मी दुनिया में पहचान मिली थी. इस फिल्म में शाहरूख खान ने प्यार में पागल हो जाने वाले प्रेमी का किरदार बेहतरीन तरीके से निभाया था और इसी किरदार ने उन्हें बुलंदियों पर पहुंचाया. लेकिन ये रोल पहले शाहरुख खान की बजाय आमिर खान को ऑफर हुआ था. उस समय आमिर कई फिल्मों में रोमांटिक हीरो बन चुके थे और लोग उन्हें ऐसे रोल्स में खूब पसंद भी करते थे. नेगेटिव रोल होने की वजह से आमिर ने ये रोल नहीं किया और ये रोल शाहरुख को मिल गया.


क्राइम मास्टर गोगो – अंदाज अपना अपना
फिल्म अंदाज अपना अपना के क्राइम मास्टर गोगो जितने खतरनाक थे उतने ही फनी भी थे. इस रोल को शक्ति कपूर ने इतना शानदार निभाया था कि ये हिंदी सिनेमा के सबसे बेहतरीन विलेन्स में से एक बन गया. लेकिन इस रोल के लिए पहली पसंद शक्ति कपूर नहीं बल्कि टीनू आनंद थे.

यह भी पढ़ें : जानिए, देश के किन-किन शहरों में प्रदूषण सबसे कम होता है

भल्लाल देव – बाहुबली
फिल्म ‘बाहुबली’ भारत में बनने वाली अब तक की सबसे बड़ी फिल्म है. इस फिल्म में ‘बाहुबली’ के भाई ‘भल्लाल देव’ को विलेन के रोल में दिखाया गया था. एक्टर राणा दग्गुबती ने इस रोल के लिए जबरदस्त बॉडी बनाई थी और बॉडी बिल्डिंग के मामले में उनका किरदार सही में प्रभास पर भारी पड़ा था, लेकिन ये किरदार राणा दग्गुबती से पहले बॉलीवुड एक्टर जॉन अब्राहम को ऑफर किया गया था. जॉन के इस रोल को मना करने के बाद ही इस रोल को राणा दग्गुबती को दिया गया.