BJP सांसद के विवादित बोल, कहा- पूर्व MP का करतीं थीं चुंबन

0
kp yadav
kp yadav

भाजपा के खेमे से पिछले कुछ महीनों में कई नेताओं ने विवादित बयान देकर पार्टी की फज़ीहत कराई। हाल ही में मारक शक्ति वाले साध्वी के बयान के बाद अब एक और भाजपा सांसद का महिला कलेक्टर के खिलाफ विवादास्पद बयान सामने आया है। इन सांसद का नाम है केपी यादव जो डॉक्टर हैं, लेकिन अपने बिगड़े बोल की वजह से सुर्खियों में बने हुए हैं।

भाजपा सांसद का अशोभनीय, अमर्यादित और अभद्र बयान विवाद का विषय बन गया। सांसद ने कहा कि पूर्व सांसद का चरण चुम्बन करने के लिए कलेक्टर गांव-गांव पहुंच जाती थीं, और उनके ही इशारे पर परिसीमन किया गया। वहीं इस विवादित टिप्पणी पर कांग्रेस आग बबूला हो गई और सांसद के बयान के विरोध करते हुए महिला कांग्रेस ने तुलसी पार्क में धरना प्रदर्शन किया।

Install Kare Flipcart App aur Paaye Rs.500 PayTm Par Turant

प्रदर्शनकारियों ने सांसद के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर प्रधानमंत्री के नाम सौंपा। साथ ही महिला कांग्रेस कार्यकताओं ने महिला अस्मिता को ठेस पहुंचाने वाले बयान को लेकर सांसद केपी यादव से भी मांग की है कि वे जिला कलेक्टर के साथ-साथ पूरी नारी समाज से माफी मांगे। माफीनामे से इतर ये बवाल क्यों मचा ये जानिए।

दरअसल, मध्यप्रदेश के अशोकनगर जिले में ग्राम पंचायतों के परिसीमन में अनियमितता का आरोप लगाकर बीजेपी की तरफ से मंगलवार को कलेक्टर दफ्तर के बाहर पर प्रदर्शन किया गया। इसमें गुना सीट से बीजेपी सांसद के साथ कार्यकर्ता कलेक्टर को इस मामले में ज्ञापन देने की मांग को लेकर सड़क पर बैठ रहे जिसके बाद केपी यादव के बोल बिगड़ गए और उन्होंने अशोभनीय टिप्पणी कर दी। इसी दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने कलेक्टर दफ्तर के परिसर में घुसने का प्रयास किया तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया।

जिस महिला कलेक्टर के खिलाफ सांसद महोदय ने विवादित बयान दिया है उनका इस मामले में बयान सामने आया है। क्लेक्टर मंजू शर्मा ने कहा- मीडिया के माध्यम से मालूम चला कि सांसद ने ऐसा कहा है, सांसद द्वारा इस तरीके की भाषा का प्रयोग उचित नहीं है।

ये भी पढ़ें : प्रज्ञा ठाकुर: विपक्ष के ‘काले जादू’ के कारण हो रही है भाजपा नेताओं की मौत