ट्रंप से खफ़ा होने के बाद अमेरिकी रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस का इस्तीफा

0

अमेरिकी के विदेश मंत्री जेम्स मैटिस नें अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया है। उन्होंने अपना त्यागपत्र अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड़ ट्रंप को दे दिया है। वे 2019 तक अपने पद से हट जाएंगे।

ट्रंप के साथ विचारों का मतभेद था

अपने त्यागपत्र में अमेरीकी रक्षा मंत्री नें कहा की क्योंकि मैं राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के विचारों से मेल नहीं खाता हूँ। इसलिए मैं अपने पद से इस्तीफ़ा दे रहा हूँ।

सीरीया मुद्दे पर हुई ट्रंप से नाराजगी

बताया जा रहा है की ट्रंप प्रशासन के द्वारा सीरीया से अमेरीकी फौज को वापस बुलान के फैसले से रक्षा मंत्री जैम्स मैटिस नाराज था। जैम्स मैटिस का मानना था की अमेरिका को अभी सीरीया से अपनी फौज को वापस नहीं बुलाना चाहिए।

आपको बता दें इस वक्त अमेरिका के लगभग 2 हज़ार फौजी सीरीया में तैनात है। मैटिस के इस्तीफे के एक दिन पहले ही ट्रंप नें आईएस पर जीत का ऐलान कर दिया और इसके साथ ही उन्होंने अमेरिकी सेना को सीरीया से भी वापस बुलाने की बात कही है। इस बात को लेकर रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस नें राष्ट्रपति के सामने अपना विरोध दर्ज कराया। मैटिस चाहते है की अमेरिका अभी अपनी फौज को सीरीया में रखे।

ईरान परमाणु समझौते पर भी था विवाद

मैटिस और ट्रम्प के बीच इसी साल ईरान परमाणु समझौते को लेकर भी विवाद उभरे थे। ट्रम्प ने मई में ईरान के साथ डील से हाथ खींच लिए थे, जबकि मैटिस ने समझौते की कुछ शर्तों का बचाव किया था। इसके अलावा ट्रम्प ने हाल ही में अंतरिक्ष में अमेरिकी सेना की अलग टुकड़ी- ‘स्पेस फोर्स’ बनाने का ऐलान किया था। जबकि मैटिस ने इसका भी विरोध किया था।