श्रीनिवासन और शाह को मिला सुप्रीम कोर्ट से नोटिस ।

0
श्रीनिवासन और शाह को मिला सुप्रीम कोर्ट से नोटिस ।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की हाल में ही में सम्पन्न विशेष आमसभा में बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन और पूर्व सचिव निरंजन शाह के शामिल होने का मामला शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट की जांच के दायरे में आ गया।
न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति एएम खानविलकर और न्यायमूर्ति धनजंय वाई चंद्रचूड़ की तीन  सदस्यीय पीठ ने इस मुद्दे पर दोनों से जवाब मांगते हुए कहा कि अयोग्य घोषित किया गया कोई भी सदस्य राज्य क्रिकेट एसोसिएशन के मनोनीत सदस्य के रूप में भी इस तरह की बैठक में शामिल नहीं हो सकता है। इस बात पर पीठ ने दोनों को नोटिस जारी किये है।

मामले की अगली सुनवाई 24 को होगी। इस बीच पूर्व सीएजी विनोद राय की अध्यक्ष्ता वाली प्रशासको की समिति ने अपनी चौथी स्टेट रिपोर्ट के साथ हाल ही में सम्पन्न विशेष आम सभा में कहा कि श्रीनिवासन  व शीर्ष अदालत के आदेश की वजह से किसी भी पद पर रहने की अयोग्य है और वे राज्य क्रिकेट एसोशिएसन के मनोनीत सदस्य के रूप में एसजीएम में शामिल नहीं हो सकते है, पीठ ने कहा है कि वह अगली सुनवाई पर फैसला सुनाएगी । उसने सीओए की रिपोर्ट में उठाई गई आपत्तियों पर श्रीनि और शाह का जवाब माँगा है।

शीर्ष अदालत ने सीओए से रामचंद्र गुहा और विक्रम लिमये के त्याग पत्र स्वीकार करते हुए उन्हें उनकी जिम्मेदारी से मुक्त कर दिया। इन दोनों ने बीसीसीआई के प्रशासक के रूप में काम करने में असमर्थता व्यक्त करते हुए त्याग पत्र दे दिया था ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fourteen − nine =