MOVIE REVIEW: काजोल-अजय की जोड़ी ने मचाया धमाल, ऑडियंस को पसंद आ रही है “Tanhaji: The Unsung Warrior”

0
MOVIE REVIEW
MOVIE REVIEW

ऐतिहासिक पीरियड ड्रामा पर बेस्ड Tanhaji : The Unsung Warrior इस साल की चर्चित मूवी में से एक है यह मूवी आज सिनेमाघर में रिलीज़ हो गयी है।तह्जी की कहानी से यह पता चलता है की भारत की संघर्ष की लड़ाई में इन माहन सपूतों ने कैसे भारत माँ को गौरवंतित करने का अवसर दिया था। शिवाजी के ऐसे ही एक दोस्त थे तानाजी मालुसरे. तानाजी को शिवाजी का दाहिना हाथ माना जाता था और उन्होंने बड़ी-बड़ी लड़ाईयां लड़ी थी। फिल्म तानाजी: द अनसंग वारियर, वीर योद्धा तानाजी की कहानी है, जिन्होंने स्वराज के सपने को पूरा करने के लिए अपनी पूरी जान झोक दी थी। इस मूवी में एक लम्बे आरसे के बाद आपको काजोल और अजय देवगन की जोड़ी देखने को मिलेगी।

मूवी की स्टोरी लाइन की बात की जाए तो ये कहानी 4 फरवरी 1670 में हुए सिन्हागढ़, से शुरू होती है जिसे तब कोणढाना के नाम से भी जाना जाता था, के युद्ध के बारे में है. इस युद्ध में तानाजी (अजय देवगन) और मराठा योद्धाओं ने छत्रपति शिवाजी महाराज (शरद केलकर) के लिए औरंगजेब (ल्यूक केनी) और उसके खास आदमी उदयभान राठौड़ (सैफ अली खान) के खिलाफ जंग छेरी थी। औरंगजेब पूरे हिंदुस्तान पर कब्जा हतियाना चाहता था और शिवाजी के खास तानाजी उसे रोकने की कोशिश में अपनी जान की बाज़ी लगा देते है। उसी युद्ध के इर्द-गिर्द घूमती है तन्हाजी की कहानी।

अगर मूवी में किये गए अभिनय की बात की जाए तो तानाजी के किरदार में अजय देवगन में बहुत जमा है। एक शातिर और निष्ठावान योद्धा जो अपने देश और शिवाजी महाराज के लिए कुछ भी कर सकता है. इस रोल को अजय देवगन ने काफी बेहतरीन तरीके से निभाया है। फिल्म में काजोल ने सावित्री बाई का किरदार निभाया है, जो तानाजी की पत्नी हैं. काजोल और अजय देवगन की जोड़ी हमेशा की तरह खूबसूरत है. काजोल की आदकारी के तो क्या कहने ? उन्होंने हर एक दृश्य में अपनी छाप छोड़ दी।


वहीं सैफ अली खान अपनी दमदार परफॉरमेंस से मूवी में चाँद चाँद लगा दिए। उदयभान राठौड़ के बेहद खूंखार किरदार में सैफ ने इस कदर जान भरी है कि आप उन्हें आने वाले समय में याद करेंगे. सैफ का बेरहम अंदाज और उनकी भूखी आंखें उन्हें बाकी एक्टर्स से बहुत अलग दिखाया गया है। अजय और सैफ की टक्कर भी देखने लायक है। उनकी डायलॉग डिलीवरी भी काफी एफ्फोर्ट्लेस्स लग रही है।

अगर डायरेक्शन की बात की जाए तो तानाजी: द अनसंग वॉरियर डायरेक्टर ओम राउत के अंतर्गत बना है। डायरेक्शन और एडिटिंग भी काफी अच्छी है. हालांकि, फिल्म में जानवरों का ज्यादा इस्तेमाल नहीं किया गया, जिसकी वजह से VFX की मदद ली गई है. किरदारों को घुड़सवारी करते और लड़ाई करते हुए दिखाने के लिए VFX का इस्तेमाल किया गया है, जो काफी डिस्ट्रक्शन है।

यह भी पढ़ें : बिगबॉस 13: बिगबॉस के घर में कॉमेडी का तड़का लगाने आ रहे है भारती सिंह के पति हर्ष लिंबाचिया और पारितोष

अगर मूवी के एक्शन सन की बात की जाए तो वो बहुत लाजवाब है। मूवी में एक्शन दृश्य सबसे जय्दा ऑडियंस को लुभाया है। फिल्म की सबसे बड़ी ताकत है इसके एक्शन सीक्वेंस. जंग के मैदान में उतरे मराठा और मुगलों की जंग देखने लायक है. एक्शन सीक्वेंस की कोरियोग्राफी बेहद दमदार है और यही चीज फिल्म के सेकंड हाफ को दिलचस्प बनाती है.मूवी ऑडियंस भी बहुत पसंद आ रही है। उम्मीद से अच्छा रिस्पांस देखने को मिल रहा है इस मूवी का।