हैदराबाद केस: आरोपी की मां ने अपने बेटे की करतूत पर दिया कुछ ऐसा बयान

0
हैदराबाद केस: आरोपी की मां ने अपने बेटे की करतूत पर दिया कुछ ऐसा बयान

हैदराबाद रेप और मर्डर केस ने कई लोगों को झंझोड़ कर रख दिया है और अब आरोपी की मां ने जो बयान दिया है. शायद उनकी जगह कोई और होता तो वह भी मां होती तो यहीं करती.

बता दें कि आरोपी की मां ने कहा है कि अगर उनका बेटा गैंग रेप , कत्ल का दोषी है तो उसे भी जला दिया जाए. रेप और मर्डर केस के आरोप में गिरफ्तार 4 आरोपियों में से एक आरोपी की मां ने मीडिया से बात करते हुए यह कहा कि अगर मेरे बेटे ने अपराध किया है तो उसने गलत किया है और गलत तो गलत ही है.

साथ ही आरोपी की मां ने यह भी कहा कि उसे इस बात पर विश्वास नहीं हो रहा कि उसके बेटे ने ऐसी हरकत की है. लेकिन वह दोषी है और उसे भी अन्य आरोपियों की तरह वहीं सजा मिलनी चाहिए. आरोपी की मां का यह बयान उस घटना के एक दिन बाद आया जब उसके बेटे ने अपने साथियों के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया.

इससे पहले हैदराबाद के शमशाबाद में पशु चिकित्सक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म और जलाकर मार देने जैसी वीभत्स घटना के पांचवें दिन रविवार को युवती के घर के पास उस समय तनाव पैदा हो गया, जब स्थानीय निवासियों ने राजनेताओं, पुलिस और मीडिया को इलाके में प्रवेश करने से रोक दिया.

हैदराबाद के बाहरी इलाके शमशाबाद में जहां दरिंदगी की भेंट चढ़ी युवती का घर है, वहां रिहायशी इलाके के नक्षत्र विला के गेट पर एक बोर्ड टंगा हुआ था, जिस पर लिखा था, ‘कोई सहानुभूति नहीं, केवल कार्रवाई और न्याय.’

कुछ राजनीतिक दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं को लोगों के विरोध के कारण पीड़िता के परिवार से मिले बिना वापस जाना पड़ा. प्रदर्शनकारियों ने मांग की है कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव पीड़ित परिवार के साथ न्याय करने के लिए तुरंत जवाब दें.

वहीं मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने दोषियों को कड़ी से कड़ी से सजा देने की बात कही है. सीएम ने मामले से निपटने के लिए एक फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने का भी फैसला किया है.

यह भी पढ़ें : दिल्ली सरकार ने निर्भया कांड के दोषियों की दया याचिका को ख़ारिज करने की मांग की

उन्होंने कहा कि परिवार को राजनेताओं और अन्य लोगों से सहानुभूति की जरूरत नहीं है. राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किशन रेड्डी समेत कई लोग पीड़िता के घर सांत्वना देने के लिए मिल चुके हैं.