CAA के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन पर आया गृह मंत्री बयान

CAA
CAA के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन पर आया गृह मंत्री बयान

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ पूरे देश भर में चल रहा है पिछले कई दिनों से यह विरोध प्रदर्शन हो रहा. इसी बीच गृह मंत्री अमित शाह ने इससे संबंधित बयान दिया है. दिल्ली में आयोजित एक कर्यक्रम के दौरान अमित शाह ने कहा है कि कुछ भी हो इस कानून को देश भर में लागू किया जाएगा. मोदी सरकार सुनिश्चित करेगी कि इन शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता हासिल हो और सम्मान के साथ भारतीय नागरिक बनकर रहें.

साथ ही अमित शाह ने यह भी कहा कि मोदी सरकार सुनिश्चित करेगी कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के गैर मुस्लिम शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता हासिल हो और वे देश में सम्मान के साथ जी सकें. नए कानून का विरोध करने वाले लोगों को चुनौती देते हुए कहा कि वे जितना चाहें कानून का विरोध कर सकते है.

अमित शाह ने कहा कि पूरा विपक्ष देश के लोगों को गुमराह कर रहा है. मैं दोहराता हूं कि किसी भी अल्पसंख्यक समुदाय के किसी भी व्यक्ति की नागरिकता छीनने का कोई सवाल ही नहीं है. विधेयक में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है.

यह भी पढ़ें : CAA के विरोध में राष्ट्रपति के पास पहुंचा विपक्ष

इसी के साथ कांग्रेस पर हमला बोलते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि मैं कांग्रेस पार्टी से कहना चाहता हूं कि यह नेहरू-लियाकत समझौते का हिस्सा था, लेकिन 70 साल से लागू नहीं हुआ, अमित शाह ने कहा कि मैं देश के विद्यार्थियों और युवाओं से अपील करता हूं कि आप नागरिकता संशोधन एक्ट का अध्ययन करिये. इसमें किसी की भी नागरिकता छीनने का कोई प्रावधान ही नहीं है. साथ ही कहा कि विपक्षी पार्टी गुमराह करने का काम कर रही है और देश में हिंसा का वातावरण पैदा कर रही है.