सीबीआई ने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के एक अधिकारी को गिरफ्तार

0
सीबीआई ने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के एक अधिकारी को किया गिरफ्तार

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के एक अधिकारी को रिश्वतखोरी के आरोप में गिरफ्तार किया है. सीबीआई ने जाल बिछाकर रिश्वत की रकम के लिए मध्यस्थता करने वाले व्यक्ति को भी गिरफ्तार कर दोनों ही आरोपियों को 6 जून तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

Loading...

बता दें कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के एक अधिकारी ने एक शख्स के माध्यम से शिकायतकर्ता से 5 लाख रुपये की मांग की थी, लेकिन पूछताछ के दौरन शख्स ने 2 लाख रुपये की रिश्वत लेने की बात कही है. रिश्वत के लेनदेन के पुख्ता सबुतों की सूचना मिलने पर ही सीबीआई ने 2 जून को कार्रवाई की थी. कार्रवाई करने के बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया.

मालूम हो कि रेलवे के एक कांट्रैक्टर के कर्मचारियों की कर्मचारी भविष्य निधि रकम कटौती को लेकर ईपीएफओ में केस चल रहा था. इस केस को निपटाने के लिए कांट्रैक्टर ने एक प्राइवेट शख्स को केस सौंपा था. उस शख्स को पेशेवर वकील बताया जा रहा है.

यह भी पढ़ें : राजस्थान में एक विवाहिता के संग गैंगरेप कर दी धमकी


इस मामले से संबंधित शख्स ने अधिकारी से बातचीत की. इससे संबंधित मामले को रफा दफा करने और जांच बंद करने को लेकर दोनों के बीच पांच लाख रुपये की रिश्वत की बातचीत हुई. इसी बीच केंद्रीय जांच ब्यूरो को कर्मचारियों के ईपीएफ की राशि विवाद की सूचना मिली, जिसके बाद सीबीआई इसकी जांच में जुट गई, रिश्वत के लेनदेन की पुख्ता सूचना मिलने पर सीबीआई ने रविवार को कार्रवाई की. फिलहाल सीबीआई ने दोनो ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.