Zomato Down: जोमैटो ने अचानक क्यों बंद कर दी फूड डिलीवरी? सोशल मीडिया पर लोग पूछ रहे सवाल, जाने डिटेल

0
87

Zomato Down: जोमैटो ने अचानक क्यों बंद कर दी फूड डिलीवरी? सोशल मीडिया पर लोग पूछ रहे सवाल, जाने डिटेल

नई दिल्ली: ऑनलाइन फूड डिलीवरी (Online Food Delivery) फर्म जोमैटो (Zomato) अभी ऑनलाइन ऑर्डर नहीं ले रही है। मिंट की खबर के मुताबिक, कंपनी की वेबसाइट पर लिखा हुआ है कि ‘हम वर्तमान में ऑनलाइन ऑर्डर स्वीकार नहीं कर रहे हैं। हम जल्द ही वापस आएंगे।’ अब लोग परेशान हो रहे हैं। बारिश में जलभराव के बीच अब लोगों को भूख से भी जूझना पड़ रहा है। वहीं लोग अब सोशल मीडिया पर मजाकिया मीम भी खूब शेयर कर रहे हैं। हालांकि कंपनी ने अचानक अपनी सेवाएं क्यों बंद की हैं, इस बारे में अभी कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी है।

लोग बड़ी संख्या में जोमैटो से ऑर्डर करते हैं खाना
देशभर में लोग बड़ी संख्या में जोमैटो का इस्तेमाल करते हैं। लोग जोमैटो से खूब खाना मंगाते हैं। महानगरों में इसका इस्तेमाल करने वालों की संख्या काफी है। आपको बता दें कि जोमैटो का देश भर में लगभग 500 मिलियन का ऑर्डर वॉल्यूम है। यह संख्या साल 2026 तक 1.6 बिलियन तक पहुंचने की उम्मीद है। ये प्लेटफार्म पर लाखों लोग नौकरी भी कर रहे हैं। ऐसे में अभी सेवाएं बंद होने से सबकी परेशानी बढ़ गई है।

ई कॉमर्स कंपनियों ने इस वजह से बांधे हाथ, फ्रैशर्स को नहीं मिलेगी मोटी सैलरी, जानिए ऐसा क्यों

Copy

बारिश के बीच लोग हो रहे परेशान
अभी कुछ दिनों से लगातार हो रही बारिश के चलते कई शहरों में जलभराव की स्थिति है। ऐसे में लोग ऑनलाइन ऑर्डर कर खानेपीने की चीजें खूब मंगा रहे हैं। बारिश के चलते लोग सामान खरीदने भी नहीं जा पा रहे हैं। ऐसे में जोमैटो से खाना ऑर्डर नहीं होने के चलते लोग परेशान हो रहे हैं।

ये भी देखें

Smartphone में App डाउनलोड करने से पहले रखें इन बातों का ध्यान, नहीं लीक हो सकती है Location

एड को लेकर हुआ था विवाद
अभी कुछ दिन पहले जोमैटो के एक एड को लेकर हंगामा भी हुआ था। जोमैटो के जिस एड को लेकर हंगामा हुआ, उसमें ऋतिक रोशन बोलते हुए दिख रहे थे, ‘उन्हें थाली का मन किया उज्जैन में, तो महाकाल से मंगा लिया।’ महाकालेश्वर मंदिर के पुजारियों ने इस विज्ञापन पर आपत्ति जताई थी। उन्‍होंने बताया कि महाकाल मंदिर से कोई थाली डिलीवर नहीं की जाती है। दावा किया कि इससे हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंची है। सोशल मीडिया पर भी इस एड के विरोध में मुहिम चल गई। विवाद को बढ़ता देख जोमैटो ने माफी मांग ली थी। जोमैटो ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक बयान जारी किया था। इसमें कहा, ‘ऋतिक रोशन अभिनीत एड जो उज्जैन के विशिष्ट पिन-कोड में चलता था, वह महाकाल रेस्तरां की थाली के संदर्भ में था। न कि परम पूजनीय महाकालेश्वर मंदिर के। महाकाल रेस्तरां, उज्जैन हमारे उच्च भागीदारों में एक है। थाली उसके मेनू में शामिल है।’ कंपनी ने कहा, ‘हम उज्जैन के लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हैं। विवाद पैदा करने वाला विज्ञापन अब नहीं चल रहा है। हम माफी मांगते हैं क्योंकि यहां किसी की आस्था और भावनाओं को ठेस पहुंचाने का इरादा नहीं था।’

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News