योगी अदित्यानाथ ने ओमप्रकाश राजभर को बर्खास्त करने की मांग की

0

लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले और एग्जिट पोल के बाद देश की राजनीति को लेकर काफी हलचल मचा हुआ है. वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी अदित्यानाथ ने राज्यपाल रमा नाईक से उनके मंत्रीमंडल में शामिल ओमप्रकाश राजभर को बर्खास्त करने की सिफारिश कर दी है.

बता दें कि ओमप्रकाश राजभर ने खुद इस फैसले का स्वागत किया है. इतना ही नहीं ओपी राजभर के जिन नेताओं को राज्य में मंत्री पद का दर्जा दिया गया था, उन्हें भी योगी आदित्यनाथ ने वापस लेने की सिफारिश कर दी है.

राजभर ने कई ऐसे बयान भी दिए है जो बीजेपी के लिए मुसीबत का कारण बने है, तो वहीं समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के हक में गए हैं. ऐसे में अब जब एग्जिट पोल के नतीजे सामने हैं, तो यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनके खिलाफ एक्शन की बात की है

बता दें कि ओपी राजभर योगी सरकार में पिछड़ा वर्ग कल्याण-दिव्यांग जन कल्याण मंत्री थे. योगी ने राज्यपाल से सिफारिश कर उन्हें तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है. बीते काफी लंबे समय से वह भारतीय जनता पार्टी और खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ बोलते रहे हैं, जिसकी आलोचना होती रही है.

ओपी राजभर की पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले BJP के साथ आई थी. हालांकि, जब से सरकार बनी है तभी से ओम प्रकाश राजभर सरकार के खिलाफ बयान देते रहे हैं.