World Environment Day 2023: पेट्रोल में मिला रहे हैं, अब डीजल में भी मिलाया जाएगा इथेनॉल, यहां पर की गई शुरुआत

16
World Environment Day 2023: पेट्रोल में मिला रहे हैं, अब डीजल में भी मिलाया जाएगा इथेनॉल, यहां पर की गई शुरुआत

World Environment Day 2023: पेट्रोल में मिला रहे हैं, अब डीजल में भी मिलाया जाएगा इथेनॉल, यहां पर की गई शुरुआत

नई दिल्ली: देश में अब आने वाले दिनों में डीजल में भी ईथेनॉल मिलाया जाएगा। भारत पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (Bharat Petroleum Corporation Ltd) ने सोमवार को अशोक लीलैंड और हीरो मोटोकॉर्प के सहयोग से ईडी7 ईंधन मिश्रण की प्रभावशीलता का परीक्षण करने के लिए एक पायलट कार्यक्रम शुरू किया है। इसमें डीजल में 7% इथेनॉल (Ethanol) को मिलाया जाएगा। इस कार्यक्रम का उद्देश्य भारत की बॉयोफ्यूल इकॉनमी में बदलाव लाना है। वर्ल्ड एनवायरनमेंट डे (World Environment Day 2023) पर इस पोग्राम की शुरुआत की गई है। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य काबर्न उत्सर्जन को कम करना है। अभी पायलट कार्यक्रम की शुरुआत की गई है। इसमें रोडवेज बसों में इस डीजल को डालकर इसके परिणामों का पता लगाया जाएगा। BPCL-R&D द्वारा तैयार किए गए ED7 ईंधन में 93% डीजल और 7% इथेनॉल (Ethanol) का इस्तेमाल किया गया है। इस ईंधन का अशोक लेलैंड के सहयोग से इंजन पर टेस्ट करने के बाद सत्यापन किया गया है।

स्थायी ईंधन विकल्प विकसित करने की तैयारी

बीपीसीएल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक जी. कृष्णकुमार के मुताबिक, बीपीसीएल अशोक लेलैंड और हीरो मोटोकॉर्प के सहयोग से स्वच्छ ईंधन विकास कार्यक्रम के तहत स्थायी ईंधन विकल्प विकसित कर रहा है। स्थायी ईंधन विकल्प विकसित करने की दिशा में BPCL ने देश भर के कई शहरों में E20 की आपूर्ति शुरू कर दी है। अशोक लीलैंड की बसों के लिए पायलट ईडी7 (7% इथेनॉल के साथ मिश्रित डीजल) और हीरो मोटोकॉर्प के साथ दोपहिया वाहनों के लिए फ्लेक्स फ्यूल (ई27 और ई85) को आज हरी झंडी दिखाई गई है। इस विश्व पर्यावरण दिवस पर बीपीसीएल बेहतर कल के लिए स्वच्छ ईंधन की ओर बढ़ने का प्रयास कर रहा है।

बीपीसीएल के निदेशक सुखमल जैन के मुताबिक, ED7 (7% इथेनॉल के साथ मिश्रित डीजल) कृषि आबादी की आर्थिक समृद्धि और भारत की जीडीपी में इसके योगदान को बढ़ाने के साथ-साथ पर्यावरण को बेहरत बनाने की एक महत्वाकांक्षी पहल है। अशोक लेलैंड ने ED7 ईंधन का इस्तेमाल अपने इंजनों पर करके देखा है। ईडी 7 पार्टिकुलेट मैटर और नाइट्रोजन ऑक्साइड (NOx) सहित प्रदूषण के स्तर को कम करने में सक्षम है। इसके अच्छे परिणाम मिले हैं। इंजन में किसी भी बदलाव के बिना इस मिश्रण को डीजल वाहनों द्वारा मूल रूप से अपनाया जा सकता है। पायलट कार्यक्रम के बाद, ईंधन के व्यावसायिक इस्तेमाल के लिए एआरएआई, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय और पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय को एक रिपोर्ट पेश की जाएगी।

फ्लेक्स-फ्यूल प्रोटोटाइप विकसित किया

हीरो मोटोकॉर्प ने जयपुर में अपने सेंटर ऑफ इनोवेशन एंड टेक्नोलॉजी (सीआईटी) में फ्लेक्स-फ्यूल प्रोटोटाइप विकसित किया है। 125cc BS6 इंजन से लैस वाहन, इथेनॉल-मिश्रित पेट्रोल मिश्रण पर 20% (E20) से 85% (E85) इथेनॉल मिश्रणों पर चल सकता है। BPCL, Ashok Leyland, और Hero MotoCorp की पहल ने कार्बन उत्सर्जन को कम करने और आर्थिक स्थिरता को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार के दृष्टिकोण के साथ आगे बढ़ने की तैयारी की है। बता दें कि भारत पेट्रोलियम अगले 5 वर्षों में करीब 7000 ऊर्जा स्टेशनों पर इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन पेश करने की योजना पर काम कर रहा है।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News