मोदी-ट्रम्प का साथ, इसलिए है खास

0
donald trump
मोदी-ट्रम्प का साथ, इसलिए है खास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका के दौरे पर हैं. अमेरिका का एक शहर टेक्सस में मोदी ने भारतीय कम्युनिटी के लगभग 50,000 लोगो को सम्बोधित किया है. साथ ही अमेरिका के राष्ट्रपति ने इसे “ऐतिहासिक पल” भी कहा है.


“Howdy, मोदी!” जैसा रिसेप्शन अमेरिका में किसी विदेशी नेता के लिए इतने बड़े पैमाने पर नहीं हुआ था. यह पहली बार था कि अमेरिका किसी नेता की इस तरह से मेहमानवाज़ी कर रहा था.
बता दें कि हूस्टन के NRG स्टेडियम में “Howdy, मोदी!” नामक कार्यक्रम किया गया. मोदी और ट्रम्प द्वारा मंच साझा करने से पहले 90 मिनट के इस शो में, लगभग 400 कलाकारों ने अपनी प्रस्तुति देकर संमा बांधा.

मोदी का यह दौरा इसलिए भी महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि हाल ही में भारत सरकार ने कश्मीर से धारा 370 हटाया है. अगर अमेरिका भारत के इस कदम का स्वागत करता है, तो पाकिस्तान पूरी दुनिया में अलग हो जाएगा. मोदी द्वारा इतने बड़े संबोधन में ट्रम्प का शामिल होना भी ट्रम्प के लिए फायदेमंद है, बता दें कि ऐसा इसलिए क्योंकि अगले साल अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव होने है, अगर अमेरिकी-भारतीय नागरिकों का साथ ट्रम्प को मिलता है तो ट्रम्प जरूर चुनाव जीत सकते हैं. वहीं मोदी ने इस कार्यक्रम में आतंकवाद, पाकिस्तान और विश्व इकोनॉमी के बारें में बात की.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मेगा हाउडी मोदी कार्यक्रम के दौरान कहा है कि भारत में भाजपा सरकार ने धारा 370 को विदाई दी, जिसने जम्मू-कश्मीर के लोगों को विकास के बारे में बात की गई थी. उन्होंने साथ ही कहा कि, “धारा 370 ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को विकास से वंचित कर दिया था. आतंकवादी और अलगाववादी तत्व स्थिति का दुरुपयोग कर रहे थे. अब वहां के लोगों को समान अधिकार मिल गए हैं.”

पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए, मोदी ने कहा कि कुछ लोगों को अनुच्छेद 370 के हनन की समस्या थी. “ये वही लोग वो थे, जो अपने देश पर ठीक से शासन नहीं कर सकते हैं. यही लोग हैं जो आतंकवाद को बढ़ावा देते हैं और उसका पोषण भी करते हैं. पूरी दुनिया उन्हें जानती है.”

कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों के बारे में बात करते हुए मोदी ने जम्मू-कश्मीर में कहा, आतंकवादी और अलगाववादी तत्व अभी भी इस स्थिति का दुरुपयोग कर रहे है. फिलहाल ” अब पूछताछ के बाद वहां के लोगों को समान अधिकार मिल गए हैं. ”

यह भी पढ़ें : कंपनी के बिजनेस ट्रिप पर शख्स की सेक्स के बाद मौत, कोर्ट ने बीमा देने के लिए कहा

इससे पहले भी उन्होंने अमेरिकी-राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को भारतीय-अमेरिकियों में एक बहुत ही “विशेष व्यक्ति” के रूप में पेश किया, जिसने हर जगह पर एक गहरा और स्थायी प्रभाव छोड़ा है.
वहीं भारत के प्रधानमंत्री ने NRG स्टेडियम में लगभग 50,000 से अधिक लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि इस शानदार स्टेडियम और सभा में ट्रम्प का स्वागत करना उनके लिए सम्मान और विशेषाधिकार था. साथ ही मोदी ने भारत और दुनिया भर के सभी भारतीयों को शुभकामनाएं दी.