ऐसा क्या हो गया कि मायावती को करना पड़ा पार्टी के संगठन में फेरबदल?

0
8JJK
8JJK

उत्तर प्रदेश की विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में करारी हार मिलाने के बाद बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की अध्यक्ष, मायावती सभी जोन के इंचार्जों और जिम्मेदार पदाधिकारियों को बुलाया खबरों के अनुसार मायावती बड़े स्तर पर संगठन में फेरबदल कर सकती हैं.

मायावती ने बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) में बड़ा फेरबदल हाल ही में किया था. मुनकाद अली को उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया था वहीं आरएस कुशवाहा को बीएसपी का राष्ट्रीय महासचिव बनाया था. इसके अलावा जौनपुर से लोकसभा सांसद श्याम सिंह यादव को बीएसपी संसदीय दल का नेता बनाया था, जबकि सांसद रितेश पांडेय को लोकसभा में पार्टी का डिप्टी लीडर बनाया था.दानिश अली को बीएसपी संसदीय दल के नेता के पद से हटा दिया था. हालांकि सांसद गिरीश चंद्र जाटव लोकसभा में बीएसपी के चीफ व्हीप बने हुए हैं.

यह भी पढ़ें : क्या बाल ठाकरे के फॉर्मूले पर बनेगी महाराष्ट्र की सरकार ?

बसपा और समाजवादी पार्टी के गठबंधन भी 2019 के लोकसभा चुनावों में मिलकर भी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पायी मोदी लहर को हराना तो दूर टिक तक भी नहीं पायी , जिसके परिणाम स्वरूप उन्होंने बाद समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन तोर लिया। क्या यह फेरबदल बहुजन समाज पार्टी की पहचान बरकार रख पायेगा।