जानिए हनुमान चालीसा से होने वाले चमत्कार

0

हनुमान जी और हनुमानचालीसा दोनों का भारतीय संस्कृति में एक ऐसी आस्था है जिसका वर्णन नहीं किया जा सकता है. हनुमान जी का नाम आते ही हमारे अंदर एक अद्भुद शक्ति का संचार होने लगता है. हनुमान चालीसा का पूरा पाठ करने में लगभग 10 मिनट का समय लगता है. क्या है हनुमान चालीसा से जुड़ें कुछ रोचक तथ्य.

हनुमान जी अत्‍यंत बलशाली थे और वह किसी से नहीं डरते थे. हनुमान जी को भगवान माना जाता है और वे हर बुरी आत्‍माओं का नाश कर के लोगों को उससे मुक्‍ती दिलाते हैं. जिन लोगों को रात मे डर लगता है या फिर डरावने विचार मन में आते रहते हैं, उन्‍हें रोज हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए.

साढे़ साती का प्रभाव कम करते है. हनुमान चालीसा पढ़ कर आप शनि देव को खुश कर सकते हैं और साढे साती का प्रभाव कम करने में सफल हो सकते हैं. कहानी के मुताबिक हनुमान जी ने शनी देव की जान की रक्षा की थी, और फिर शनि देव ने खुश हो कर यह बोला था कि वह आज के बाद से किसी भी हनुमान भक्‍त का कोई नुकसान नहीं करेगें.

पाप से मुक्‍ती दिलाते है, हम कभी ना कभी जान बूझ कर या फिर अनजाने में ही कोई ना कोई गलती कर ही बैठते है. लेकिन आप उन सभी गलतियों की माफी हनुमान चालीसा पढ़ कर मांग सकते हैं. रात के समय हनुमान चालीसा को 8 बार पढ़ने से आप सभी प्रकार के पाप से मुक्‍त हो सकते हैं.

बाधाएं हटाते है, जो भी इंसान हनुमान चालीसा को रात में पढे़गा, उसे हनुमान जी स्‍वंय आ कर सुरक्षा प्रदान करते है, ऐसा करने से मन शांत होता है और डर भी नहीं लगता हिंदू धर्म में हनुमान चालीसा को बड़ा ही महत्व दिया गया हैं.

यह भी पढ़ें : आज भी मौजूद है यहां पर संजीवनी बूटी का पहाड़

हनुमान चालीसा पढ़ने से शनि ग्रह और साढे़ साती का प्रभाव कम होता है. हनुमान जी राम जी के परम भक्त हैं. प्रत्येक व्यक्ति के अंदर हनुमान जी जैसी सेवा-भक्ति विद्यमान है. हनुमान-चालीसा एक ऐसी कृति है, जो हनुमान जी के माध्यम से व्यक्ति को उसके अंदर विद्यमान गुणों का बोध कराती है. इसके पाठ और मनन करने से बल बुद्धि जागृत होती है. हनुमान-चालीसा का पाठ करने से व्यक्ति खुद अपनी शक्ति, भक्ति और कर्तव्यों का आंकलन कर सकता है.