कप्तान विराट कोहली पर रेफरी से बदतमीज़ी करने के लिए जुर्माना

0

टीम इंडिया के कप्तान और धुरंधर बल्लेबाज़ विराट कोहली एक बार फिर सुर्ख़ियों में हैं. लेकिन इस बार वो किसी नए रिकॉर्ड नहीं बल्कि अपने गुस्से के कारन चर्चा में आये हैं. आईसीसी ने बदतमीजी करने के जुर्म में विराट कोहली पर जुर्माना लगाया है.

ये है जुर्माना

कोहली को आईसीसी (इंटरनेशनल क्रिकेट कौंसिल) के कोड ऑफ कंडक्ट लेवल 1 के उल्लंघन का दोषी पाया गया है. उनकी आचरण पर कार्यवाही करते हुए आईसीसी ने कोहली पर मैच फीस का 25 प्रतिशत जुर्माना लगाया है. इतना ही नहीं कोहली को आईसीसी की तरफ से ‘1 डिमेरिट पॉइंट’ भी मिला है. दरअसल,  भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान ने सेंचुरियन टेस्ट के तीसरे दिन खराब रोशनी के कारण खेल रोके जाने से अंपायरों के फैसले पर नाराज़गी जताई थी.

इस वजह से एंग्री हुए यंग मैन

खबर है कि विराट कोहली सेंचुरियन में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन आखिरी सेशन का खेल रोके जाने से काफी नाराज़ हुए. मैच के दौरान पहले तो बारिश ने खलल डाला, फिर जब बारिश के बाद खेल दोबारा शुरू हुआ, तो 5 ओवर बाद फिर से खेल रोक दिया गया.

मैदानी अंपायरों ने धीमी रोशनी के चलते मैच रोक दिया. इसके बाद कप्तान विराट कोहली गुस्से में मैदान से बाहर निकले और सीधे मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड के कमरे में पहुंच गए. कोहली ने मैच रेफरी के सामने खेल रोके जाने पर काफी नाराज़गी व्यक्त की.

इन नियमों का किया उल्लंघन

विराट ने आईसीसी खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ के लिए आचार संहिता की धारा 2.1.1 का उल्लंघन किया है. इस धारा के तहत खेल भावना से विपरीत आचरण को देखा जाता है. जुर्माना लगने के बाद कोहली ने मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड द्वारा सुनाई गई सजा स्वीकार कर ली है इस वजह से इस घटना की औपचारिक सुनवाई की ज़रूरत नहीं पड़ी. उन पर मैदानी अंपायर माइकल गॉ,  पाल रेफेल,  तीसरे अंपायर रिचर्ड केटलबोरो और चौथे अंपायर अलाहुद्दीन पालेकर ने आरोप लगाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen − four =