सरकारी खर्च से किया जायेगा योगी आदित्यनाथ के मठ का  सौंदर्यीकरण, लगेंगे इतने करोड़ रूपए

0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गोरखपुर मठ को चमकाने की तैयारी की जा रही रही है. बताया जा रहा है की प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए योगी के मठ का सौंदर्यीकरण करने की पूरी प्लानिंग कर ली गई है. आपको बता दे मठ को चमाकने का जो खर्च आएगा वह सारा सरकारी खजाने से किया जायेगा. ऐसे में इस मुद्दे पर सवाल उठ सकते है.

गोरखनाथ मंदिर में बनाई जायेगी झील, लगेंगी लाइटे और स्क्रीन

गोरखनाथ मंदिर के भीतर झील को विशेष रूप से तैयार किया जा रहा है. पहले यह साधारण झील थी जिसमें लोग बोटिंग करते थे, लेकिन अब इसमें एक विशेष वाटर स्क्रीन लगाई जा रही है. यह वाटर स्क्रीन साउंड सिस्टम और लेजर प्रोजेक्टर से लैस होगी. झील में लेजर प्रोजेक्टर के जरिए वाटर शो करने की तैयारी हो रही है.

इसके अलावा गोरखनाथ मठ में विशेष रूप की लाइट्स से लगाई जा रही हैं जिससे रात के वक्त पूरा मंदिर परिसर चमक उठेगा. सूत्रों ने बताया कि इन लाइट्स का इफेक्ट ऐसा होगा जिससे अगर आसमान से हवाई जहाज जा रही है तो वहां से भी चमकता हुआ मंदिर दिखाई देगा. मंदिर को चमकाने के अलावा लाइट एंड साउंड सिस्टम भी बिल्कुल नया लगाया जा रहा है. साथ ही कंप्यूटर से चलने वाला विशेष रूप से स्पेशल प्रोग्रामिंग सिस्टम तैयार किया गया है जो मंदिर परिसर में बजने वाले म्यूजिक और लाइट्स का कोआर्डिनेशन करेगा.

यह भी पढ़ेविपक्ष के पास न तो कोई रणनीति है और न ही नेतृत्व : योगी आदित्यनाथ

गोरखपुर मंदिर को चमकाने में लगेंगे छह करोड़ रूपए

कहा जा रहा है की गोरखनाथ मठ को चमकाने के लिए सरकारी खर्च से छह करोड़ रूपए खर्च किये जायेंगे. गोरखपुर मठ में योगी आदित्यनाथ कई सालों से रहते आये है इसलिए सरकारी विभाग कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते है. सौंदर्यीकरण में करीब 6.30 करोड़ रूपए का खर्चा आएगा जो की पर्यटन विभाग की तरफ से किया जायेगा.

बता दे गोरखपुर में सडको पर आये दिन जलभराव की स्थिति बन जाती है. इसके अलावा गोरखपुर शहर कई अन्य दिक्कतों का सामना भी कर रहा है जैसे साफ़ सफाई ना होना, खस्ताहाल सड़के. अब ऐसे में यह उचित है या नहीं इस पर सवाल तो उठेगा ही.