अमेरिका के उपराष्ट्रपति का दावा, ” अपने जवानों को एक्शन ना लेने के लिए कह रहा है ईरान”

0
us
अमेरिका के उपराष्ट्रपति का दावा, " अपने जवानों को एक्शन ना लेने के लिए कह रहा है ईरान"

अमेरिका और ईरान दोनों में ही आए दिनों से युध्द की आसंका बनी हुई है. जिसको लेकर दोनों ही देश अपनी अपनी राय दे रहें है. अब अमेरिकी के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने भी दावा किया है. ईरान अब बैकफुट पर आ गया है. और उसने अपनी फोर्स को संदेश देना शुरू कर दिया है. दूसरी और ईरान के द्वारा इराक में मौजूद अमेरिकी एयरबेस पर हमले के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान को इस बात को लेकर चेतावनी दी है.

एक इंटरव्यू के दौरान ही अमेरिकी उपराष्ट्रपति ने कहा कि हमें लगातार इनपुट मलि रहें है कि अपनी सेना को कहा है कि अब अमेरिका की सेना या उनके नागरिकों के खिलाफ कोई कदम न उठाएं. इसी के साथ अमेरिका के उपराष्ट्रपति ने कहा कि ईरान का यह सदेंश लगतार फैलता जाए और हर जवानों को उनका यह सदेंह मिल जाएं.

इसी के साथ यह भी बता दें कि अमेरिका के द्वारा ईरानी कमांडर कासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद ईरान ने अपना बदला ले लिया है. ईरान की ओर से 22 बैलेस्टिक मिसाइल दागी गईं, जिनका निशाना इराक में मौजूद अमेरिका का एयरबेस था. ईरान की ओर से दावा किया गया था कि इसमें 80 से अधिक अमेरिकी जवानों की मौत हो गई है.

इसी के साथ अमेरिका राष्ट्रपति टंप ने भी यह दावा किया है. ईरानी हमले में किसी भी अमेरिकी सैनिक की मौत नहीं हुई है. अमेरिकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने यह कहा है कि जनरल सुलेमानी की मौत के बाद अमेरिकी नागरिक अब सुरक्षित हैं. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ईरान सरकार बदलना नहीं चाहती है लेकिन सरकार के व्यवहार में बदलाव चाहती है.

यह भी पढ़ें : ईरान में विमान क्रैश होने के बाद अब न्यूक्लियर पावर प्लांट के पास भूकंप के झटके

बता दें कि ईरान ने गुरूवार को भी इराक के ग्रीन जोन में दो रॉकेट दागे थे, हालांकि इसमें कोई बडा नुकसान नहीं हुआ था. इसी को देखते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ओर से यह कहा गया है कि ईराम में शांति चाहते है अगर वह कुछ भी करेगा तो अमेरिका इसका कड़ा जबाब देने के लिए तैयार है.