UP Voting Card And Polling Booth: अगर वोटिंग कार्ड खो गया है और पोलिंग बूथ भी नहीं पता तो यहां जान लीजिए

104


UP Voting Card And Polling Booth: अगर वोटिंग कार्ड खो गया है और पोलिंग बूथ भी नहीं पता तो यहां जान लीजिए

लखनऊ: विधानसभा चुनाव (UP Vidhansabha Chunav) में वोट डालने के लिए आपको सबसे जरूरी दस्तावेज मतदाता पहचान पत्र यानी वोटर आईडी कार्ड (Voter id card) की जरूरत पड़ेगी। इसी दस्तावेज के जरिए देश के 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र के देश के नागरिकों को मतदान करने की अनुमति दी जाती है। भारत में होने वाले लोकसभा, विधानसभा समेत अन्य आम चुनाव के साथ ही पहचान पत्र के तौर पर भी इसका विशेष महत्व है। ऐसे में अगर आपका वोटर आईडी कार्ड खो (Voter id card lost) गया या फट गया है, तो उसके लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है। डुप्लीकेट वोटर आईडी (Duplicate voter id card) पाने के लिए हम आपको आसान तरीका बताएंगे। इसके जरिए आप फिर से अपना वोटर आईडी कार्ड हासिल कर सकेंगे।

ऑनलाइन निकाल सकते हैं डुप्लीकेट वोटर आईडी कार्ड
भारत निर्वाचन आयोग ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में डुप्लीकेट मतदाता पहचान पत्र यानी वोटर आईडी कार्ड निकालने की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया को सरल बना दिया है। इसके जरिए कोई भी घर बैठकर ही अप्लाई कर सकता है।

1. अपने राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी की वेबसाइट (https://www.nvsp.in/) पर लॉग इन करें। इसके बाद डुप्लीकेट वोटर आईडी कार्ड जारी करने के लिए फॉर्म EPIC-002 की एक कॉपी वेबसाइट से डाउनलोड कर लें।
2. फॉर्म ठीक तरीके से भरने के साथ ही मांगे गए दस्तावेज अटैच करें। इसमें आपको एफआईआर कॉपी, एड्रेस प्रुफ और पहचान का प्रमाण पत्र लगाना होगा।
3. फॉर्म को भरने के बाद अपने स्थानीय निर्वाचन कार्यालय में जमा करें। इसके बाद आपको यहां से एक रेफरेंस नंबर मिलेगा।
4. रेफरेंस नंबर के जरिए आप राज्य चुनाव कार्यालय की वेबसाइट पर अपने आवेदन की स्थिति को ट्रैक कर सकते हैं।
5. राज्य चुनाव कार्यालय आपके फॉर्म को प्रोसेस और वेरिफाई करेगा। इसकी जानकारी भी रेफरेंस नंबर से मिल जाएगी।
6. वेरिफिकेशन पूरा होने के बाद आपको सूचना दी जाएगी। फिर आप निर्वाचन कार्यालय से अपना डुप्लीकेट वोटर आईडी कार्ड ले सकते हैं।

इन बातों को न भूलें
डुप्लिकेट वोटर आईडी कार्ड के लिए आवेदन करते समय आवेदकों को कुछ जरूरी जानकारी और दस्तावेज जरूर देने होंगे। इसमें प्रदेश का नाम, आवेदन करने वाले का पूरा नाम, पता, जन्मतिथि की जानकारी है। साथ ही डुप्लीकेट वोटर आईडी के लिए आवेदन करने का कारण बताना होगा। अगर वोटर आईडी कार्ड खो गया या चोरी हो गया है, तो एफआईआर की कॉपी भी जमा करनी होगी। दूसरी तरफ डुप्लीकेट वोटर जारी होने के बाद पहली आईडी मिल जाती है तो उसे आपको सरेंडर करना होगा।

अपना पोलिंग बूथ कैसे पता करें
विधानसभा चुनाव या लोकसभा चुनाव में आप अपने तय पोलिंग बूथ (polling booth) पर ही वोट डाल सकते हैं। पोलिंग बूथ पता करने के लिए राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल (https://www.nvsp.in/) पर जाएं। यहां पर आपना विधानसभा क्षेत्र जाने ऑप्शन पर क्लिक करें। नई विंडो खुलने पर मतदाता पहचान पत्र संख्या, राज्य और कोड भरें। इसके बाद नीचे आपके पोलिंग बूथ की डिटेल आ जाएगी। इसे आप डाउनलोड भी कर सकते हैं।

वोटर आईडी कार्ड के लिए अप्लाई करने का तरीका



Source link