Transgender लोगों के लिए सरकार ला रही है SMILE योजना, स्वास्थ्य बीमा से लेकर स्कॉलरशिप तक का मिलेगा लाभ

0
159

Transgender लोगों के लिए सरकार ला रही है SMILE योजना, स्वास्थ्य बीमा से लेकर स्कॉलरशिप तक का मिलेगा लाभ

नई दिल्ली:ट्रांसजेंडर (Transgender) लोगों के लिए एक अच्छी खबर है। सरकार अंब्रेला स्कीम स्माइल (SMILE) के तहत इन लोगों को मुख्यधारा में लाने के लिए शनिवार को रोडमैप जारी कर सकती है। इसमें ना सिर्फ ट्रांसजेंडर लोगों को आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojana) का लाभ मिलेगा, बल्कि ट्रांसजेंडर बच्चों को अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए स्कॉलरशिप भी मिलेगी। ट्रांसजेंडर लोगों के लिए बने नेशनल पोर्टल में रजिस्टर करा चुके लोग ही इस स्कीम का लाभ उठा सकेंगे। बता दें कि आयुष्मान ट्रांसजेंडर हेल्थ इंश्योरेंस (Ayushman Transgender health insurance) के तहत सर्जरी से लेकर स्कॉलरशिप तक में मदद की जा रही है। ट्रांसजेंडर बच्चों की पढ़ाई का भी काफी ध्यान रखा जा रहा है।

योजना के होंगे दो घटक
सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय की इस योजना में दो घटक हैं। पहले में ट्रांसजेंडर व्यक्तियों के व्यापक पुनर्वास पर काम करना है, तो दूसरे घटक में भीख मांगने में लगे व्यक्तियों को वापस लाना है। ट्रांसजेंडर व्यक्तियों को मुख्यधारा में लाने के लिए नवंबर 2020 में ट्रांसजेंडर व्यक्तियों का राष्ट्रीय पोर्टल लॉन्च किया गया था। यह पोर्टल सरकार और इस समुदाय के बीच इस योजना का लाभ प्राप्त करने का माध्यम होगा।

मिलेगा 5 लाख का बीमा
अधिकारियों का कहना है कि मंत्रालय आयुष्मान ट्रांसजेंडर हेल्थ कार्ड जारी करने के बेहतर तरीके पर काम कर रही है और इसे इस महीने में ही ले आने की उम्मीद है। सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि आयुष्मान भारत ट्रांसजेंडर के रूप में मिलने वाले स्वास्थ्य बीमे में जेंडर री-अफर्मेशन सर्जरी यानि दोबारा लिंग पुष्टि के लिए सर्जरी उपलब्ध होगी। यह राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के सहयोग से आयुष्मान भारत योजना के तहत मिलने वाले हेल्थ बेनिफिट पैकेज का हिस्सा होगा। इस योजना के तहत हर ट्रांसजेंडर व्यक्ति को 5 लाख रुपये प्रति वर्ष का इंश्योरेंस कवर मिलेगा।
Uttarakhand Election: आयुष्मान भारत के साथ अटल आयुष्मान योजना का जिक्र, जेपी नड्‌डा ने गिनाए सरकार के काम
हार्मोन थेरेपी भी शामिल
यह व्यापक हेल्थ पैकेज ट्रांसजेंडर व्यक्ति के लिए संक्रमण संबंधी हेल्थकेयर के सभी पहलुओं को भी कवर करेगा। साथ ही इसमें हार्मोन थेरेपी और ऑपरेशन के बाद की औपचारिकताओं सहित सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी का कवर भी शामिल होगा। यह ऑपरेशन निजी और सरकारी दोनों स्वास्थ्य सुविधाओं में कराया जा सकेगा।

बच्चों को मिलेगी स्कॉलरशिप
इस स्कीम में ट्रांसजेंडर स्टूडेंट्स के लिए स्कॉलरशिप की भी सुविधा होगी। इस स्कीम में नौवीं कक्षा और स्नातक स्तर तक के ट्रांसजेंडर स्टूडेंट्स को अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए स्कॉलरशिप दी जाएगी। ट्रांसजेंडर स्टूडेंट्स को पोस्ट मैट्रिक/प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप के रूप में 13,500 रुपये दिए जाएंगे। साथ ही इस स्कीम में स्किल ट्रेनिंग से लेकर प्लेसमेंट व रोजगार के अवसर भी प्रदान कराए जाएंगे।

नेशनल पोर्टल से सर्टिफिकेट लेना जरूरी

बता दें कि अब तक राष्ट्रीय पोर्टल से 4921 ट्रांसजेंडर सर्टिफिकेट्स जारी किये जा चुके हैं। इस केंद्रीय योजना का फायदा उन्हीं लोगों को मिलेगा, जिनके पास सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय (MoSJE) द्वारा जारी किया गया ट्रांसजेंडर सर्टिफिकेट होगा।

Copy

Study Abroad: इन स्कॉरशिप की मदद से कर सकते हैं विदेश में मुफ्त पढ़ाई

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News