क्या कोई आदमी काम से छुट्टी ना लेकर, कमा सकता है 20 करोड़ रुपए

0

क्या आप कभी सोच सकते है की कोई इंसान कंपनी में काम करते हुए छुट्टी न ले और उसके बदले उस इंसान को 20 करोड़ रुपए मिल जाए। बहुत से लोगों के लिए यह एक सपना हो, लेकिन यह सपना साकार भी हो सकता है। अगर आप अनिल मणिक भाई की तरह काम करेंगे तो आपको भी मिल सकती है उनकी जैसी सफ़लता।

लार्सेन ऐंड टूर्बो के रिटायर्ड नॉन एग्जेक्युटिव चेयरमैन अनिल मणिक नाइक को कार्पोरेट में उनके योगदान के लिए 26 जनवरी को पद्म विभूषण से स्मानित किया गया।

आपको बता दें की नायक ने पिछले साल अपनी छुटियां खर्च नहीं की जिसके बदले कंपनी ने उन्हें 20 करोड़ रुपए का भुगतान किया। नाइक ने लार्सेन ऐंड टूर्बे में पांच दशक तक अपनी सेवाएं दी है। L & T की सालाना रोपोर्ट ते मुताबिक, नाइक ने पिछले साल बची छुटियों को कैश कराकर 19.40 करोड़ रुपए कमाए है। उन्हें इस साल करीब 1.37 अरब रुपए का भुगतान किया गया है। जिसमें उनकी बेस सैलरी 2.73 करोड़ रुपए है।

उन्होंने काफी परेशानी झेली

यहां तक पहुंचने में नाइक को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा था। वह कहते है, की वह मुश्किल से ही रविवार को ही छुट्टी ले पाते थे। उन्होंने कहा मैं अमेरिका में रह रहे अपने बच्चों से भी नहीं मिल पाता हूँ। मेरे बेटी और बेटे ने मुझे मेरी ही हाल पर छोड़ दिया है। क्योंकि उनकी शिकायत रहती है की मैं रात को आता हूं और अगली सुबह निकल जाता हूँ।

मुश्किल घडी में कंपनी को संभालना पड़ा

जब सन 2000 में अंबानी और बिड़ला ग्रुप L&T का अधिग्रहण करना चाह रहे थे, उस मुश्किल समय में नाइक ने ही कंपनी को संभाला था। आरबीआई के स्वतंत्र निदेशक एस गुरुमूर्ती ने ए.एम नाइक को पद्म विभूषण से सम्मानित किए जाने पर कहा, नाइक इस पुरसकार के हकदार है, उन्होंने अंबानी से L&T को बचाया और इसे केवल इंजीनियरिंग कंपनी से राष्ट्रीय सुरक्षा एसेट में तब्दील कर दिया है। मिस्टर नाइक को शुभकामनाएं।