इस अमेरिकी महिला ने फेसबुक को लगायी फटकार

0
फेसबुक
फेसबुक

हमने अक्सर देखा है कि फेसबुक हमेशा अपनी प्राइवेसी पालिसी से हमें धमकाता रहता है और हमारे एकाउंट को ब्लॉक करने की धमकी देता रहता है। क्या कोई सोच सकता है कि कोई फेसबुक को फटकार सकता है। जी हाँ। यह सम्भव है। ऐसा किया है US सदन की स्पीकर नैंसी पेलोसी ने। आइये इस बारें में विस्तार से जानते हैं।

US हाउस की स्पीकर नैन्सी पेलोसी ने फेसबुक को अमेरिकी लोगों को गुमराह करने और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के प्रशासन को “एंटी-ट्रस्ट एक्शन” से बाहर निकालने का आरोप लगाया है।

पेलोसी ने गुरुवार को वाशिंगटन में अपने साप्ताहिक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान कहा कि फेसबुक ने उस महान अवसर का बहुत अपमानजनक रूप से उपयोग किया है जो प्रौद्योगिकी ने उन्हें दिया है।

पेलोसी ने अपने बयान में कहा, “उनके बारे में मेरा विचार है कि वे चाहते हैं कि उनके टैक्स में कटौती हो और उनके खिलाफ कोई अविश्वास की कार्रवाई न हो, और वे इस संबंध में इस प्रशासन को खारिज कर देते हैं क्योंकि अभी तक वही मिला है जो उन्होंने प्राप्त किया है।”

पेलोसी एक सवाल का जवाब दे रही थी कि क्या फेसबुक और उसके सीईओ मार्क जुकरबर्ग में बहुत अधिक शक्ति है।

कई अमेरिकी सांसदों, जिनमें सीनेटर कमला हैरिस और एलिजाबेथ वारेन शामिल हैं, फेसबुक को तोड़ने के लिए पिच कर रहे हैं।

वारेन ने सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर सफलतापूर्वक एक नकली विज्ञापन चलाया, जिसमें दावा किया गया था कि “मार्क जुकरबर्ग और फेसबुक ने डोनाल्ड ट्रम्प को फिर से चुनाव के लिए समर्थन दिया”।

पेलोसी के अनुसार, “भगवान् जानते हैं कि फेसबुक का इरादा अमेरिकी लोगों को गुमराह करके पैसा बनाना है। उन्होंने पिछले चुनाव में रूस से पैसे की जांच भी नहीं की थी। उन्होंने कभी सोचा भी नहीं था कि उन्हें क्या करना चाहिए। वे बहुत गैर जिम्मेदार है। मुझे लगता है कि उनका व्यवहार शर्मनाक है।”

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान का शहर सुरक्षा में पेरिस और न्यूयार्क से भी निकला आगे

फेसबुक को पलोसी की टिप्पणियों पर बयान जारी करना बाकी है।

पेलोसी ने कहा, “फेसबुक का बिजनेस मॉडल पैसा बनाने के लिए है। वे बच्चों पर पड़ने वाले प्रभाव की परवाह नहीं करते। वे सच्चाई पर पड़ने वाले प्रभाव की परवाह नहीं करते।”