आतंकवादी को मार POK में ही दफनाया, पाक सरकार को भनक तक नहीं

आतंकवादी
आतंकवादी को मार POK में ही दफनाया, पाक सरकार को भनक तक नहीं

ब्रिटेन में दोषी करार दिए गए आतंकवादी और लंदन ब्रिज पर हमला कर दो की हत्या करने पर स्कॉटलैंड यार्ड द्वारा इस आतंकवाद को मार गिराया है. इस आतंकवाद का नाम उस्मान खान है, जिसे उसे कश्मीर में स्थित उसके पैतृक गांव में दफनाया गया है. हालांकि पाकिस्तना सरकार का कहना है कि इस बारे में उसे कोई जानकारी नहीं है.

लंदन ब्रिज पर हमला करने वाला 28 वर्षीय उस्मान ब्रिटिश का नागरिक था और जिसका शव विमान के जरिए लंदन से इस्माबाद लाया गया है. वहीं शुक्रवार को उसके परिवारवालों को सौंप दिया गया है. आतंकवादी के रिश्तेदार का कहना है कि परिवार उसे ब्रिटेन में दफन नहीं करना चाहता है. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि शव को पाकिस्तान लाने से पहले बर्मिंघम शहर की मस्जिद में नमाज पढ़ी गई है.

खबरों के मुताबिक यह पता चला है कि परिवार उस्मान का शव इस्लामाबाद हवाई अड्डे से पीओके के कोटली जिले में स्थित किजलानी गांव में ले जाया गया है और शुक्रवार को दोपहर में स्थानीय कब्रिस्तान में दफना दिया गया है. इससे पहले दो बार भीड़ ने डॉन अखबार के इस्लामाबाद स्थित कार्यालय पर हमला किया और अखबार की प्रतियां जलाई. लोग लंदन ब्रिज हमले में शामिल आतंकवादी के पाकिस्तानी मूल के होने की खबर प्रकाशित करने से नाराज थे.

यह भी पढ़ें : अमेरिका के राष्ट्रपति ने अपने पद का किया दुरूपयोग

29 नवंबर को पुलिस द्वारा गोली मारे जाने से पहले उस्मान ने लंदन ब्रिज पर आतंकी हमला कर दो लोगों की चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी और अन्य तीन को घायल कर दिया था.बाद में उसकी पहचान लंदन स्टॉक एक्सचेंज पर बम धमाके की साजिश रचने और पीओके स्थित अपनी जमीन पर आतंकवादी प्रशिक्षण शिख्स चलाने के मामले में दोषी ठहराए गए व्यक्ति के रूप में की गई जिसे सात साल पहले कैद की सजा हुई थी.