आज का सवाल Number 167……………… क्या स्कूल के बच्चों और महिलाओं पर हमला करके रानी पद्मावती की इज्ज़त की रक्षा करना ठीक है?

0

संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावत’ के विरोध प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया है. आतंकियों ने कई पब्लिक प्रॉपर्टी को जलाकर अपना गुस्सा ज़ाहिर किया है. देशभर में अलग-अलग जगह से आगजनी और हिंसा की खबरें आ रही हैं. ले

किन कल गुडगाँव में जिस तरह से स्कूल के बच्चों की बस पेर पत्थरबाजी की गयी उसने इन विरोधियों की मंशा पर सवाल खड़े कर दिए हैं. क्या सचमुच ये विरोध एक रानी की इज्ज़त के लिए है? या इसके ज़रिये आगामी चुनाव में अपनी पकड़ मज़बूत की जा रही है? कहीं ऐसा तो नहीं कि इस विरोध के पीछे राजनैतिक कारण हैं? क्यूंकि रानी पद्मावती की इज्ज़त की रक्षा करने की बात की जा रही है तो वो 16000 औरतों की इज्ज़त बचाने के लिए सबसे पहले ख़ुद आग में कूदी थीं. उन्होंने नहीं सोचा था कि आने वाले कल में देश की नौनिहालों को उनके साहस का भुगतान इस तरह करना पड़ेगा.

आप अपनी राय हमें नीचे कमेंट बॉक्स में दें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven − two =