Sukesh Tihar News: अब तिहाड़ में स्पेशल कैमरों से होगी ‘महाठग’ सुकेश की निगरानी

0
75

Sukesh Tihar News: अब तिहाड़ में स्पेशल कैमरों से होगी ‘महाठग’ सुकेश की निगरानी

नई दिल्ली: तिहाड़ जेल में बंद 200 करोड़ रुपये की महाठगी करने के आरोपी विचाराधीन कैदी सुकेश चंद्रशेखर की निगरानी के लिए अब बॉडी वॉर्न कैमरों से लैस एस्कॉर्ट गार्ड तैनात करने के आदेश दिए गए हैं। ये एस्कॉर्ट गार्ड सुकेश पर उस वक्त भी नजर रखेंगे, जब वह अपने सेल और वॉर्ड से किसी काम के लिए बाहर निकलेगा।

जेल प्रशासन ने यह कदम एनबीटी में 2 जुलाई को छपी उस खबर के बाद उठाया है, जिसमें एनबीटी ने सुकेश के जेल अस्पताल में रहते हुए नर्सिंग स्टाफ के जरिए जेल से बाहर मैसेज भेजने का खुलासा किया था। सुकेश के मामले में तिहाड़ जेल प्रशासन हर बार यह दावा करता रहा है कि इसके ऊपर सख्त निगरानी रखी जा रही है। लेकिन इसके बावजूद जेल प्रशासन की नाक के नीचे सुकेश ने 200 करोड़ रुपये से अधिक की महाठगी कर डाली। इसमें जेल के कई अफसर भी अब तक नप चुके हैं।

Sukesh Tihar News : तिहाड़ में बंद ‘महाठग’ सुकेश चंद्रशेखर का हमदर्द पकड़ा गया, अंदर से बाहर पहुंचाता था कागजात
इसके बाद दावा किया गया था कि अब सुकेश कोई नया कांड नहीं कर पाएगा और सुकेश को रोहिणी जेल की जगह तिहाड़ की जेल नंबर-4 में कैद किया गया। लेकिन यहां भी सुकेश की हरकतें जारी रहीं। इसी साल जनवरी में जेल अफसरों को सवा लाख रुपये की रिश्वत देने की कोशिश की गई। इस मामले का खुलासा भी एनबीटी ने किया था। जिसके बाद जेल के दो डिप्टी सुपरिंटेंडेंट और एक वॉर्डर को इसकी जेल से ट्रांसफर किया गया था। इसके कुछ दिन बाद सुकेश को भी तिहाड़ की जेल नंबर-1 में शिफ्ट कर दिया गया था। लेकिन यहां इसने जेल नंबर-6 में बंद अपनी पत्नी से हर सप्ताह मुलाकात करने की मांग करते हुए भूख हड़ताल शुरू कर दी। इसके बाद सुकेश को तिहाड़ की जेल नंबर-3 के अस्पताल में भर्ती कराया। जहां इसने एक नर्सिंग स्टाफ से अपने कुछ दस्तावेज जेल से बाहर भिजवाने और अंदर लाने का काम कराया। हालांकि इसका यह कारनामा पकड़ा गया। इस मामले को एनबीटी ने उजागर किया।

navbharat times -5जी जैमर, हाई रेजोल्यूशन CCTV, वोकेशनल ट्रेनिंग सेंटर, तिहाड़ से भी मॉर्डन होगी नरेला में बनने वाली जेल, जानें खासियत
इसके बाद अब जेल प्रशासन ने नए आदेशों में कहा है कि सुकेश पर सीसीटीवी कैमरों से तो हरदम निगरानी रखी ही जा रही है। इसके अलावा जब भी यह अपने सेल या वॉर्ड से किसी भी काम से बाहर निकलेगा तो बॉडी वॉर्न कैमरों से लैस एस्कॉर्ट गार्ड इसकी हर मूवमेंट अपने कैमरों में कैद करेंगे। यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि कैमरे हर वक्त चालू रहें।

सीसीटीवी कैमरे, बॉडी वार्न कैमरे और जेल के जवान भी इसके ऊपर निगरानी के लिए लगाए गए हैं। जेल प्रशासन ने फिर से दावा किया है कि जेल में रहते हुए इसे ना तो मोबाइल फोन चलाने दिया जाएगा और ना ही अन्य किसी भी तरह की गैरकानूनी गतिविधि में शामिल होने दिया जाएगा। जिस नर्सिंग स्टाफ का सुकेश ने अपने फायदे के लिए इस्तेमाल किया था। उसे हटा दिया गया है।

दिल्ली की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News

Source link