इंजेक्शन लगवा कर घर लौट रहे बच्चे को कुत्ते ने दुबारा काटा

0

कहते है की जब किस्मत खराब हो तब उठ पर बैठे इंसान को भी कुत्ता काट लेता है लेकिन इस बच्चे के साथ इससे भी ज्यादा बुरा हुआ है. दिल्ली के किराड़ी में रहने वाले सात के बच्चे अमान को कुत्तो ने एक बार नहीं बल्कि दो बार काट लिया. दूसरी बार तब काटा जब वह अस्पातल से इंजेक्शन लगवा कर अपने घर आ रहा था. यह जीतना हास्यपद लगता है उससे कही ज्यादा गंभीर है की मासूम बच्चे पर कुते के दुबारा काटने पर क्या असर पड़ा होगा.

दुकान से पनीर लाते वक़्त कुते ने दाहिने पैर पर काटा

अमान किराड़ी की रमेश एन्क्लेव में रहता है. उसकी माँ शाहीन सुल्लाताना ने बताया की कुछ दिन पहले अमान पास की एक दुकान से पनीर लेने गया था. तभी गली में मौजूद कुत्ते ने उसके दाहिने पैर में काट लिया. कुत्तो का आतंकं इलाके में दिन बर बर बढ़ता ही जा रहा है. बच्चो के मन में भी कुत्तो की वजह से भय का माहौल है.

अस्पताल से इंजेक्शन लगवा घर लौटते वक़्त कुत्ते ने फिर से बनाया अपना निशाना 

कुत्ते के काटने के बाद जब अमान अस्पताल से इंजेक्शन लगवा कर घर लौट रहा था तभी दुसरे कुत्ते ने उसकी दूसरी टांग पर हमला कर दिया था. ऐसें में बच्चे को एक बार अस्पताल ले जाना पड़ा. स्थानीय लोगों का कहना है की बीते कुछ महीनों से इस कॉलोनी में कुत्तों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है. व एकाए दिन बच्चों को अपना निशाना बना रहे है. आवारा कुत्तों की वजह से बच्चों के मन में डर का माहौल है. वह अपने घर से बाहर निकलने से भी बच रहे है.

एमसीडी से शिकायत करने के बावजूद भी नहीं होई कोई कारवाई

लोगों के कहना है की इस कॉलोनी में बीते एक महीने में कुत्तों ने सात बच्चों को अपना निशाना बनाया है. बच्चों के मन में इतना भय है की वह कही बाहर आने-जाने के लिए अपने परिजनों का साहारा ले रहे है. स्कूल जाते वक़्त भी बच्चों के परिजन उनके साथ जाते है. कुत्तों के आतंक को लेकर स्थानीय निवासी अनेको बार शिकायत कर चुके है. उसके बावजूद एमसीडी ने कोई सुध नहीं ली है. लोगों की मांग है की इलाके तुरंत कारवाई होनी चाहिए.