sidhi: डाक्यूमेेंटेशन का कार्य पूर्ण, सर्वेक्षण करने किसी भी दिन आ सकती है टीम | sidhi: Documentation work completed, team can come any day to survey | Patrika News

18
sidhi: डाक्यूमेेंटेशन का कार्य पूर्ण, सर्वेक्षण करने किसी भी दिन आ सकती है टीम | sidhi: Documentation work completed, team can come any day to survey | Patrika News


sidhi: डाक्यूमेेंटेशन का कार्य पूर्ण, सर्वेक्षण करने किसी भी दिन आ सकती है टीम | sidhi: Documentation work completed, team can come any day to survey | Patrika News

सतनाPublished: Mar 21, 2023 09:38:33 pm

शहरवासी बोले, इस बार नजर नहीं आ रही स्वच्छता सर्वेक्षण की तैयारियां
-इस बार सेवा स्तर प्रगति के लिए सर्वाधिक अंक
-पिछले सर्वेक्षण में खराब प्रदर्शन के बाद इस बार फिर थ्री स्टार के लिए की गई दावेदारी

sidhi: Documentation work completed, team can come any day to survey

sidhi: Documentation work completed, team can come any day to survey

सीधी। स्वच्छ सर्वेक्षण 2023 के लिए नगर पालिका परिषद सीधी द्वारा डाक्यूमेंटेशन का कार्य पूर्ण हो चुका है। अब जमीनी स्तर पर उसका सत्यापन करने किसी भी दिन सर्वेक्षण टीम आ सकती है। विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मार्च माह के अंतिम सप्ताह व अप्रेल माह के शुरूआती सप्ताह में स्वच्छता सर्वेक्षण की टीम आने की संभावना जताई जा रही है। गत वर्ष के स्वच्छता सर्वेक्षण में नगर पालिका परिषद सीधी की स्वच्छता रैकिंग में सुधार से अधिकारी उत्साहित हैं, लेकिन इस सर्वेक्षण में नागरिकों की सहभागिता से रेटिंग सुधरेगी। हालांकि अभी इस स्तर पर नगर पालिका परिषद सीधी द्वारा विशेष कार्य नहीं किया गया है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार स्वच्छ सर्वेक्षण इस बार 9500 अंकों का हो रहा है, जिसमें सर्वाधिक अंक सेवा स्तर प्रगति के हैं। इधर शहर वासियों का कहना है कि स्वच्छ सर्वेक्षण को लेकर इस बार नगर पालिका की ओर से तैयारियां नजर नहीं आ रही हैं।
————
पिछले सर्वेक्षण में स्टार रेटिंग में खराब रही स्थिति-
नगर पालिका परिषद सीधी द्वारा स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 में थ्री स्टार के लिए दावेदारी की गई थी, जिसमें सफलता नहीं मिलने से रेटिंग खराब हुई। इस बार फिर नगर पालिका द्वारा थ्री स्टार के लिए ही दावेदारी की गई है। थ्री स्टार के लिए 600 अंक निर्धारित किये गए हैं, इसके प्रमाणन में यदि शहर खरा उतरता है तो रेटिंग सुधरेगी नहीं तो गत सर्वेक्षण की तरह रेटिंग प्रभावित होगी। शहर की खुली नालियां स्टार रेटिंग प्रभावित करने में सबसे अधिक भूमिका निभा रही हैं।
————-
ऐसे समझें अंको का गणित-
कुल अंक- 9500
सेवा स्तर- 4225
प्रमाणन – 2500
नागरिकों की आवाज- 2475
————
सेवा स्तर प्रगति में ये कार्य शामिल-
स्वच्छ सर्वेक्षण में सेवा स्तर प्रगति के लिए 4525 अंक निर्धारित किये गए हैं। इसमें कचरा संग्रहण एवं परिवहन के लिए 1750, प्रसंस्करण व निष्पादन के लिए 1830, उपयोगिता जल प्रबंधन एवं सफाई मित्र सुरक्षा के लिए 945 तथा प्रत्येक तिमाही में सेवा स्तर प्रगति के लिए कुल 3000 अंक निर्धारित किये गए हैं।
————
अच्छे अंक के लिए ये करना होगा-
*स्वच्छता कार्य एवं जागरूकता में नागरिक सहभागिता बढ़ानी होगी।
*शहरवासियों को स्वच्छता में सहयोग करना होगा।
*प्रसंस्करण यूनिट को मजबूत करना होगा।
*स्वच्छता कार्य में स्टाफ बढ़ाना होगा।
*शहर में सार्वजनिक स्थलों को सौंदर्यीकरण करना होगा।
————
गत सर्वेक्षण में यहां मिली थी खामियां-
*थ्री स्टार के लिए की दावेदारी में फेल हुए।
*कचरा प्रसंस्करण यूनिट में पर्याप्त व्यवस्थाएं नहीं।
*कचरा पृथक्कीकरण के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं नहीं।
*डोर टू डोर कचरा कलेक्शन की प्रभावी कार्रवाई नहीं।
————
वर्षवार स्वच्छ सर्वेक्षण में नगर पालिका परिषद सीधी की रैंकिंग-
वर्ष – रैंकिंंग
2020 – 81
2021 – 85
2023 – 37
————–
शहरवासी बोले………
……..वर्तमान शहर की सफाई व्यवस्था पूरी तरह से बेपटरी है। जब नपा में प्रशासक था तब स्थिति इससे बेहतर थी, नगर सरकार गठन होने के बाद स्थिति और अधिक खराब हो गई है। स्वच्छ सर्वेक्षण को लेकर किसी तरह की तैयारी नजर नहीं आ रही है। इस व्यवस्था में तो रैकिंग प्रभावित होगी।
डॉ.शिशिर मिश्रा,
———–
……….शहर को स्वच्छ रखने का एक मात्र उपाय जनता की भागीदारी ही हो सकती है। इसके बिना कोई उपाय संभव नहीं है, नगर पालिका द्वारा इस विषय पर गंभीरता नहीं दिखाई जा रही है। जनता का फीडबैक भी सही नहीं है, इसी से रैङ्क्षकग प्रभावित हो सकती है। नपा को स्वच्छता रैकिंग बेहतर करने काफी करने की आवश्यकता है।
डॉ.अनूप मिश्रा
———-
रैङ्क्षकग में होगा सुधार-
स्वच्छ सर्वेक्षण 2023 को लेकर तैयारियां की जा रही हैं। शहर की सफाई व्यवस्था पहले से काफी बेहतर हुई है। जागरूकता कार्यक्रम भी आयोजित किये जा रहे हैं। जनता को भी इसमें सहयोग करना होगा। इस बार रैकिंग में सुधार होगा।
काजल वर्मा, अध्यक्ष नपा सीधी
————
बेहतर करने के किये जा रहे प्रयास-
कचरा निष्पादन व्यवस्था, नालियों का खुला होने जैसी जो बेसिक कमियां हैं, उनके सुधार में अभी समय लगेगा। स्वच्छता रैकिंग में सुधार के लिए सफाई व्यवस्था, डोर टू डोर कचरा कलेक्शन, सौंदर्यीकरण सहित लोगों को जागरूक करने की दिशा में लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। शहरवासियों के मन जब तक यह बात रहेगी कि स्वच्छ सर्वेक्षण नगर पालिका का होता है तब तक रैकिंग सुधारना कठिन है। जनता के सहयोग से ही शहर को स्वच्छ और सुंदर बनाया जा सकता है। उन्हें भी अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी और नगर पालिका का सहयोग करना होगा।
मधुसूदन श्रीवास्तव, सीएमओ नगर पालिका सीधी
0000000000000000000



Source link