पूर्व सीएम शीला दीक्षित को मिली दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष की कमान, अजय माकन ने दी शुभकामानाएं

0

नई दिल्ली: दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष पद पर आज मुहार लग गई है. जी हां, पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को दिल्ली प्रदेश कांग्रेस की तरफ से अध्यक्ष चुना गया है. शीला दीक्षित ने आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी, जिसके बाद यह फैसला लिया गया था.

बता दें कि शीला दीक्षित को अध्यक्ष बनाए जाने को लेकर अजय माकन ने उन्होंने ट्वीट कर ढेरों बधाई दी है. एक बार फिर से दिल्ली की कमान सौंपे जाने पर शीला दीक्षित का कहना है कि पार्टी ने जिम्मेदारी दी उसके लिए धन्यवाद. उम्र को लेकर मैं कोई कमेंट नहीं करूंगी. गठबंधन को लेकर भी कोई कमेंट नहीं करूंगी. जब गठबंधन को लेकर कुछ फाइनल होगा तब उस पर वार्ता कि जाएगी.

आपको बता दें कि शीला दीक्षित 1998 से 2013 तक निरंतर 15 साल दिल्ली कि सीएम रहीं है. ये ही नहीं वह साल 2014 में केरल की राज्यपाल भी रहीं है. दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको के अनुसार, शीला दीक्षित को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने के बवजूद तीन प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष भी चुने गए है.

 हिमाचल को भी मिला एक नया प्रदेश अध्यक्ष

हालांकि इसके राहुल ने दिल्ली के अतिरिक्त हिमाचल प्रदेश का भी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चुना है. बता दें कि कुलदीप सिंह राठौर को हिमाचल प्रदेश के प्रदेश का कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया है. हिमाचल की कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल का कहना है कि सुखविंदर सिंह सुक्खी की जगह कुलदीप सिंग राठौर को हिमाचल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया है. सुखविंदर राज्य में पिछले छह साल से प्रदेश अध्यक्ष थे.

अजय माकन ने पिछले सात सितंबर में दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दिया था. उनके इस्तीफे के बाद अगले प्रदेश अध्यक्ष को लेकर भी कई नाम सुर्खियों में रहे. वहीं इसी मुद्दे पर दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको का कहना है कि अजय माकन ने स्वास्थ्य कारणों से अपने पद से इस्तीफा दिया है. अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनके इस इस्तीफे को पेंडिंग में भी रखा था, लेकिन अब उनका इस्तीफा को मंजूरी मिली है.