दिल्ली में टूटा सात साल का रिकॉर्ड, जानिए कितना गिरा तापमान

0

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत में दिसंबर के आखिरी दिनों में सर्दी से लोगों काफी परेशान है.

मैदानी क्षेत्र के कई इलाकों में पारा शून्य जा पहुंचा है

बता दें कि पहाड़ी इलाकों में तो कहर ढाह रही सर्दी का असर मैदानी इलाकों में भी खूब देखने को मिल रहा है. सर्द भारी हवाओं का आलम ये है कि मैदानी क्षेत्र के कई इलाकों में पारा शून्य जा पहुंचा है. बीते दिन राजधानी दिल्ली में सुबह का तापमान 3 डिग्री दर्ज किया गया था. दिल्ली में 26 दिसंबर का दिन सात साल में सबसे ठंडा रहा है. वहीं उत्तराखंड के छह से ज्यादा शहरों में तापमान शून्य तक जा पहुंचा है.

टूट सात साल का रिकॉर्ड

दिल्ली में बुधवार को तापमान 3.4 डिग्री पहुंचने के बाद से पिछले सात साल का सर्दी का रिकॉर्ड टूट गया है. इससे पहले दिल्ली में साल 2011 में पारा 3 डिग्री तक दर्ज किया गया था. ये ही नहीं दिल्ली-एनसीआर में गुरुग्राम का न्यूनतम तापमान 1.5 डिग्री सेल्सियस रहा है. मौसम विभाग के अनुसार, अगले पांच दिन पहाड़ सहित मैदानी भागों में घने कोहरे के साथ शीतलहर का प्रकोप बढ़ सकता है.

घर से नहीं निकल रहें है लोग 

सर्द हवाओं और तापमान में निरंतर हो रहीं गिरावट के चलते दिल्ली, एनसीआर के लोग घरों से कम ही बाहर निकल रहें है. ये ही नहीं स्कूलों में 15 जनवरी तक छुट्टियों का ऐलान किया गया है. दिल्ली की सड़कों पर सिर्फ वही लोग नजर आ रहे हैं, जिन्हें ऑफिस या अन्य जरूरी कामों पर जाना है.