SBI रिपोर्ट का दावा: अप्रैल-मई में पीक पर होगी कोरोना की दूसरी लहर, 25 लाख लोग हो सकते हैं संक्रमित

126


नई दिल्ली: देश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए मामले एक बार फिर डराने लगे हैं. फरवरी महीने से ही कोविड-19 के नए मामले लगातार बढ़ रहे हैं. कहा जा रहा है कि देश में कोरोना की दूसरी लहर की शुरुआत हो गई है. इस बीच स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) की एक रिपोर्ट ने चिंता और बढ़ा दी है. SBI की रिसर्च टीम द्वारा तैयार की गई इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि कोरोना की दूसरी लहर लगभग 100 दिनों तक रहेगी. मई तक इसका असर बना रहेगा.

SBI ने जारी की रिपोर्ट

23 मार्च के ट्रेंड को आधार मानकर रिपोर्ट में कहा गया है कि दूसरी लहर से तकरीबन 25 लाख से अधिक लोग कोरोना संकमित हो सकते हैं. SBI ने 28 पेज की रिपोर्ट जारी की है जिसमें कहा गया है कि लोकल लेवल पर लॉकडाउन का कोई असर नहीं होता है. इसलिए मास लेवल पर वैक्सिनेशन ही इसका एकमात्र उपाय है. रिपोर्ट में कहा गया है कि अप्रैल के तीसरे हफ्ते से लेकर मई के मध्य तक देश में कोरोना का पीक हो सकता है.

ये भी पढ़ें- Coronavirus New wave in India: भारत में कोरोना वायरस की नई लहर कितनी खतरनाक? 

वैक्सीनेशन तेज करने पर जोर

रिपोर्ट में इस बात पर भी जोर दिया गया है कि राज्यों में टीकाकरण की प्रक्रिया में तेजी लाने की जरूरत है. अगर वर्तमान समय की रोजना टीकाकरण की गति को 34 लाख से बढ़ाकर 40-45 लाख रोजाना किया जाए तो तीन से चार महीने में 45 साल से ऊपर के लोगों को पूरी तरह से वैक्सीनेट किया जा सकता है.

आज आए रिकॉर्ड नए मामले 

बता दें कि आज एक दिन में दूसरी लहर के दौरान सबसे ज्यादा 53,476 नए मामले सामने आए हैं. ये आंकड़े पिछले पांच महीने में सबसे अधिक हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि देश के 18 राज्यों में डबल म्यूटैंट वैरियंट पाया गया है.

सतर्कता बरतना जरूरी

आईसीएमआर के डायरेक्टर जनरल बलराम भार्गव ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर समय से पहले आ गई है. इसलिए हम सबको सचेत रहने की जरूरत है. ज्यादा से ज्यादा टेस्ट कराए जाएं, मास्क लगाना आवश्यक है, साथ ही टीकाकरण जल्द से जल्द पूरा किया जाना चाहिए.





Source link