डीएम से साधु की गुहार, बोला- मेरा मर्दानगी टेस्ट करो वरना बलात्कार…

0
Sadhu

एक साधु बाबा बदनामी होने के डर से इतना घबरा गया है कि उसने मर्दानगी के टेस्ट कराने के लिए डीएम से गुहार लगाई है। इस साधु बाबा को आशंका है कि एक महिला उन पर बलात्कार का आरोप लगा सकती है।

दरअसल, उत्तर प्रदेश बरेली में नवाबगंज के 82 साल के साधु रामदास मिश्रा बलात्कार के किसी झूठे मुकदमे में न फंसे, इसके लिए उन्होंने मेडिकल अफसरों के जरिए पोटेंसी टेस्ट कराकर प्रमाण पत्र जारी कराने को कहा है। ताकि महिला के आरोप को लिखा-पढ़ी में झूठा साबित किया जा सके।

नवाबगंज के गुलड़िया धीमर गांव में करीब छह बीघा जमीन पर आश्रम है। आश्रम में 82 साल के साधु रामदास मिश्रा रहते हैं। आश्रम के सामने मकान बने हुए हैं। आरोप है कि कुछ परिवार आश्रम की जमीन और सरकारी सड़क पर कब्जे की कोशिश कर चुके हैं। साधु के विरोध करने पर पहले भी उनके पर गंभीर आरोप लगाए जा चुके हैं। साधु को महिला से डर लग रहा है। रामदास मिश्रा को दुष्कर्म जैसे आरोप लगाने का खतरा सता रहा है।

बता दें कि सोमवार को साधु रामदास मिश्रा डीएम ऑफिस गए थे। हालांकि डीएम से मुलाकात नहीं हो सकी। साधु ने डीएम ऑफिस में प्रशासनिक अफसरों को पोटेंसी टेस्ट की अनुमति देने का प्रार्थना पत्र दिया। बुजुर्ग संत का प्रार्थना पत्र देखकर अधिकारी भी सकते में आ गए। प्रशासनिक अधिकारियों ने बुधवार को प्रभारी डीएम को पूरा मामला बताने की सलाह दी है। ताकि मर्दानगी टेस्ट पर फैसला किया जा सके। डीएम साधु के पोटेंसी टेस्ट के लिए सीएमओ को आदेश कर सकते हैं। डीएम के आदेश पर सीएमओ डाक्टरों की टीम गठित करके पोटेंसी टेस्ट कराएंगे।

ये भी पढ़ें : युवक के पेट में था दर्द, ऑपरेशन किया तो निकली लोहे की कीलें और 452…