Road Safety World Series: 7 गेंद 4 सिक्स और एक चौका, इरफान पठान की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी, इंडिया लीजेंड्स फ़ाइनल में | irafan pathan top class knowcked helped Indian legends to reach final in Road Safety World Series | Patrika News

0
57


Road Safety World Series: 7 गेंद 4 सिक्स और एक चौका, इरफान पठान की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी, इंडिया लीजेंड्स फ़ाइनल में | irafan pathan top class knowcked helped Indian legends to reach final in Road Safety World Series | Patrika News

पठान ने 12 गेंदों पर 37 रन की पारी खेली। पारी के आखिरी दो ओवर में पठान ऑस्ट्रेलिया पर कहर बनकर टूटे। दरअसल रीर्डन द्वारा फेंके गए 18वें ओवर में 12 रन मिले और अब आखिरी दो ओवर में भारत को जीत के लिए 24 रनों की जरूरत थी। गेंद डिर्क नानेस के हाथ में थी। पठान ने इस ओवर में सिक्स की झड़ी लगा दी। पठान ने सिक्स की हैट्रिक लगाई और नानेस के ओवर में 21 रन बनाए। अंतिम ओवर में भारत को जीत की जरूरत थी। तभी पठान ने चौका लगाते हुए मैच समाप्त कर दिया। इस तरह आखिरी 7 गेंदों पर पठान ने 4 सिक्स और एक चौका लगाया।

इस मैच में ऑस्ट्रेलिया लीजेंड्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट के नुकसान पर 171 रनों का स्कोर खड़ा किया था। बुधवार को बारिश के कारण सिर्फ 17 ओवर का मैच हो पाया था। गुरुवार को मुक़ाबला वहीं से खेला गया बारिश बाधित होने से पहले शेन वॉटसन की अगुवाई वाली टीम ने पहले बल्लेबाजी करने उतरी पांच विकेट के नुकसान पर 136 रन बनाए थे।

कैमरून व्हाइट (नाबाद 6 रन) और ब्रैड हैडिन (1 नाबाद 2), जो बुधवार को बारिश से खेल बंद होने पर बीच में मौजूद थे। उन्होंने अगले दिन ऑस्ट्रेलिया के लिए बल्लेबाजी शुरू की और दोनों ने अगले तीन ओवरों में 35 रन बनाए। व्हाइट 18 गेंदों में 38 रन बनाकर नाबाद रहे, जबकि हैडिन ने अपने कुल में 11 रन जोड़े, जिससे ऑस्ट्रेलिया 171/5 पर पहुंचने में कामयाब रहा।

Copy

जवाब में नमन ओझा और इरफान पठान की शानदार पारियों की मदद से भारत ने इस लक्ष्य को हासिल कर लिया। ओझा ने 62 गेंदों पर 90 रन की पारी खेली। 120 गेंदों में 172 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंडिया लीजेंड्स ने सतर्कता से शुरुआत की, क्योंकि नमन ओझा ने सचिन तेंदुलकर के साथ पारी की शुरुआत की। दोनों ने पहले विकेट के लिए 38 रन की साझेदारी की। प्रशंसक तेंदुलकर और ब्रेट ली के बीच मैच का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे, लेकिन पावरप्ले में मास्टर ब्लास्टर की पारी का समय से पहले अंत हो गया। तेंदुलकर ने नाथन रियरडन को पैडल स्कूप करने का प्रयास किया और 11 गेंदों पर 10 रन बनाकर क्लीन बोल्ड हो गए।

जेसन क्रेजा ने अपने पहले ओवर में सुरेश रैना को 11 रन पर लांग ऑफ पर कैच कराकर भारत को दूसरा झटका दिया। भारत का स्कोरकार्ड 8 ओवर में 54/2 हो गया। युवराज सिंह बीच में ओझा के साथ पारी को आगे बढ़ाया और दोनों ने भारत के लिए ताबड़तोड़ पारी खेली। ओझा ने इस मौके का फायदा उठाया, 35 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया और उस ओवर में डिर्क नैन्स की गेंद पर लगातार छक्के जड़े। युवराज के साथ तीसरे विकेट के लिए 61 रनों के की साझेदारी ने मेजबान टीम को नियंत्रण में ला दिया, लेकिन भारतीयों ने जल्दी ही में तीन विकेट खो दिए।

युवराज (15 गेंदों में 18 रन), स्टुअर्ट बिन्नी (6 गेंदों में 2 रन) और यूसुफ पठान (1) सस्ते में आउट हो गए, जिससे भारत संकट में आ गया, क्योंकि अब 18 गेंदों में 36 रन चाहिए थे। लेकिन इसके बाद इरफान ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर जीत दिला दी।





Source link