बिहार की राजधानी में RJD कार्यकर्ताओं और पुलिस में भिड़ंत

0

सृजन घोटाले को लेकर पटना में गुरुवार को आरजेडी कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हुई. आरजेडी के युवा इकाई ने सृजन घोटाले को लेकर गुरुवार को गर्दनीबाग धरना स्थल से राजभवन तक मार्च का कार्यक्रम बनाया था। इसके चलते दोपहर तक सैकड़ों की संख्या में आरजेडी के युवा कार्यकर्ता गर्दनीबाग सभास्थल पर जुट गए थे।

जैसे ही RJD कार्यकर्ताओं ने बिहार सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए राजभवन की तरफ मार्च शुरू किया, वैसे ही मौके पर मौजूद पुलिस ने उनको रोका। आरजेडी कार्यकर्ताओं के कार्यक्रम के बारे में पुलिस को पहले से ही जानकारी थी। लिहाजा सुबह से ही गर्दनीबाग धरना स्थल पर भारी संख्या में पुलिस को तैनात किया गया था।

पुलिस द्वारा रोके जाने पर युवा आरजेडी के कार्यकर्ताओं उग्र हो गए और पुलिस पर पत्थरबाजी करने लगे। आरजेडी कार्यकर्ताओं की तरफ से हुए पत्थरबाजी में एक पुलिसकर्मी के सिर पर गंभीर चोटें आईं। आरजेडी कार्यकर्ताओं को शांत कराने के लिए पुलिस ने भी लाठीचार्ज किया।। जब आरजेडी कार्यकर्ता नहीं माने, तो पुलिस ने उनके ऊपर पानी की बौछार भी की।

हालात को काबू करने के लिए पुलिस के आला अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंचे, जिसके बाद स्थिति को नियंत्रित किया जा सका। आरजेडी के मार्च में पार्टी के कई विधायक और सांसद भी शामिल थे। आरजेडी की तरफ से आरोप लगाए जा रहे थे कि भागलपुर के सृजन घोटाले में भाजपा और जदयू नेताओं की संलिप्तता के बावजूद उनके खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है और ना ही किसी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जा रही है।

 

 

आरजेडी के नेताओं ने आरोप लगाया कि सृजन घोटाला में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी समेत अन्य बीजेपी विधायकों व सांसदों की संलिप्तता है। आक्रोशित आरजेडी के नेताओं ने सृजन घोटाले मामले को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी से इस्तीफे की भी मांग की।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × two =