महाराष्ट्र में बारिश से हाहाकार, रायगढ़ में लैंडस्लाइड में 30 लोग फंसे, जानें मुंबई-कोंकण का हाल

657
महाराष्ट्र में बारिश से हाहाकार, रायगढ़ में लैंडस्लाइड में 30 लोग फंसे, जानें मुंबई-कोंकण का हाल

महाराष्ट्र में बारिश से हाहाकार, रायगढ़ में लैंडस्लाइड में 30 लोग फंसे, जानें मुंबई-कोंकण का हाल

महाराष्ट्र में बारिश के चलते हाहाकार की स्थिति है। मुंबई में भी लोग भारी बारिश के चलते कई परेशानियों का सामना कर रहे हैं। इस बीच राज्य के रायगढ़ में भूस्खलन की चार घटनाएं सामने आई हैं जिससे सड़क जाम हो गया है। इस घटना में स्थानीय पुलिस ने 15 लोगों को बचाया जबकि कम से कम 30 लोग अभी भी अंदर फंसे हुए हैं। इस दौरान 5 लोगों की मौत हो गई है। यहां बारिश से तलाई गांव तक जाने वाली सड़क बह गई है। रायगढ़ जिला कलेक्टर निधि चौधरी ने ये जानकारी दी है।

इधर, भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शुक्रवार के लिए मुंबई को ऑरेंज अलर्ट के तहत रखा है। यहां अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश” की संभावना है। इसके अलावा आईएमडी ने आगे 24 और 25 जुलाई के लिए येलो अलर्ट जारी किया है, जो अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश का संकेत देता है।

लगातार चौथे साल बारिश ने पार किया 1000 मिमी के निशान

शहर में लगातार बारिश हो रही है, जिससे कई जगहों पर जलभराव, ट्रैफिक जाम हो गया है। सांताक्रूज में आईएमडी के स्टेशन द्वारा शाम 5.30 बजे समाप्त होने वाले आठ घंटों में सिर्फ 1.1 मिमी बारिश दर्ज की गई। इस महीने कुल बारिश 1,040 मिमी रही और यह लगातार चौथा साल है जब जुलाई में हुई बारिश ने 1000 मिमी के निशान को पार किया है। जुलाई के लिए सामान्य वर्षा लक्ष्य 827 मिमी है। जून के बाद से, शहर में 2,002.5 मिमी बारिश हुई है जो कि कुल मानसून टारगेट का 90% से अधिक है।

 रेलवे मार्ग बाधित, छह हजार यात्री फंसे

महाराष्ट्र में भारी बारिश और नदियों में उफान आने से गुरुवार को कोंकण रेलवे मार्ग पर ट्रेन सेवाएं प्रभावित हो गई और करीब छह हजार यात्री फंस गए। भारी बारिश की वजह से मुंबई सहित राज्य के कई अन्य हिस्सों में रेल और सड़क यातायात प्रभावित हुआ है। इसकी वजह से अधिकारियों को बचाव कार्य में प्रशासन की मदद के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) बुलाना पड़ा है।  कोंकण रेलवे के प्रवक्ता गिरीश करंदीकर ने बताया कि इन ट्रेनों में सवार यात्री सुरक्षित हैं। तमाम परेशानियों के बावजूद कोंकण रेलवे यात्रियों को खाने-पीने का सामान मुहैया कराया जा रहा है। करंदीकर ने कहा, ” हमने सभी फंसे हुए यात्रियों को चाय, नाश्ता और पेयजल मुहैया कराने की व्यवस्था की है।

47 गांवों से संपर्क टूटा

इस बीच, राज्य के कोल्हापुर जिले में भारी बारिश के चलते सड़कों के जलमग्न हो जाने पर करीब 47 गांवों का संपर्क टूट गया है और 965 परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना पड़ा। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।  उन्होंने बताया कि बारिश के दौरान जिले में अलग-अलग स्थानों पर एक महिला सहित दो लोग पानी में बह गये।

कोंकण रेलवे अधिकारियों ने बताया कि मार्ग पर व्यवधान के कारण नौ ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया गया, उन्हें गंतव्य से पहले रोका गया है या रद्द कर दिया गया है।  कोंकण रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि ये ट्रेनें अलग-अलग स्टेशनों पर सुरक्षित स्थानों पर हैं और उनके अंदर मौजूद यात्री भी सुरक्षित हैं। उन्हें खाने-पीने का सामान मुहैया कराया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: इतिहास या विज्ञान कौन सा विषय़ ज्यादा महत्वपूर्ण है ?

Today latest news in hindi के लिए लिए हमे फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम में फॉलो करे | Get all Breaking News in Hindi related to live update of politics News in hindi, sports hindi news, Bollywood Hindi News, technology and education etc.

Source link