राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र किए 4 बड़े ऐलान

0

लोकसभा चुनाव नज़दीक आ रहे है, ऐसे में हर नेता अपनी तरफ़ से लोगों को लुभाने की कोशिश कर रहा है। ऐसे में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुनाव से पहले 4 बड़े वादे किए है। जानिए उन्होंने लोगों से कौन से चार वादे किए है।

आदिवासियों की ज़मीन

राहुल गांधी ने कहा है की जिन जमीनों पर 8 से 10 सालों में कोई उद्योग नहीं लगा है वह वापस कर दी जाए। छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में बीजेपी की हार का सबसे बड़ा कारण रहा है ज़मीन अधिग्रहण को लेकर आदिवासियों का नाराज़ होना।

महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण

देश में 45 करोड़ महिला वोटर है, राहुल गांधी ने कोच्चि की रैली में ऐलान किया है कि सत्ता में आने के बाद वह महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण देंगे।

ट्रिपल तलाक़ क़ानून होगा रद्द

आपको बता दें की भाजपा की सरकार ने केंद्र में रहकर ट्रिपल तलाक़ क़ानून बनाया है। कांग्रेस के अल्पसंख्यक सम्म्लेन में राहुल गांधी की मौजूदगी में ऐलान किया गया कि अगर पार्टी 2019 में सत्ता में आएगी तो वह ट्रिपल तलाक़ कानून रद्द् कर देगी। कहा जाता है की भारत की राजनीति में मुस्लिम वोटरों का मत बहुत महत्तवपूर्ण होता है।

बेसिक इनकम का ऐलान

कांग्रेस पार्टी का बेसिक इनकम का ऐलान बहुत महत्तवपूर्ण माना जा रहा है। रायपुर में किसानों की रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा की अगर उनकी पार्टी सत्ता में आएगी तो वह ग़रीबों को न्यूनतम आय की गांरटी देंगे।

तो ये है राहुल गांधी के वो 4 बड़े ऐलान जिनके जरिए वह 2019 का लोकसभा चनाव लड़ना चाहते है। लेकिन अब देखना होगा की आने वाले लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी के ये 4 बड़े चुनावी वादें कांग्रेस को जीत दिला पाते है की नहीं।