President Election: यूपी से द्रौपदी मुर्मू के खाते में जाएंगे 78 फीसदी से अधिक वोट, जानिए क्या है यूपी का गणित

0
89

President Election: यूपी से द्रौपदी मुर्मू के खाते में जाएंगे 78 फीसदी से अधिक वोट, जानिए क्या है यूपी का गणित

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के माननीय देश का महामहिम चुनने के लिए सोमवार को मतदान करेंगे। विपक्ष में जिस तरह से भाजपा ने सेंधमारी की है उसको देखते हुए एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू (Droupadi Murmu) के पाले में यूपी के कुल वोटों का 78 फीसदी से अधिक वोट जाते दिख रहे हैं। वहीं, विपक्ष को अपने बचे वोट सहेजने के साथ ही क्रॉस वोटिंग के खतरे से भी बचने की चुनौती है। राष्ट्रपति चुनाव (President Election) के लिए मतदान सुबह 10 बजे से विधानभवन के तिलक हॉल में होगा।

यूपी से 80 सांसद और 403 विधायक वोटर हैं। विधायकों के मत का कुल मूल्य (403*208) 83,824 और सांसदों के मत का कुल मूल्य (80*700) 56,000 है। इस तरह यूपी में सांसदों और विधायकों के मतों का कुल मूल्य 1,39,824 है। बसपा के समर्थन के ऐलान के बाद भाजपा के पास यूपी से 76 सांसदों का समर्थन है। वहीं, सुभासपा, जनसत्ता दल एवं सपा विधायक शिवपाल यादव के साथ आने के बाद एनडीए उम्मीदवार के पास 10 अतिरिक्त विधायकों का घोषित समर्थन है। ऐसे में एनडीए उम्मीदवार को 1.10 लाख से अधिक मत मूल्य मिलने का अनुमान है।

मतदान के दौरान भी बदलेगी गणित!
सीएम योगी आदित्यनाथ का दावा है कि एनडीए उम्मीदवार को 80 फीसदी से अधिक वोट से यूपी मिलेंगे। सूत्रों का कहना है कि भाजपा को मतदान के दौरान भी विपक्ष से कुछ वोट अपने पाले में आने की उम्मीद है। 2017 में राष्ट्रपति चुनाव के दौरान शिवपाल यादव के खुले समर्थन के अलावा भी एनडीए उम्मीदवार को पांच अतिरिक्त वोट मिले थे। सीएम के दावे का आधार यही है।

हालांकि, सुभासपा के समर्थन के बाद भी उसके सभी विधायकों का वोट पाना भी एक चुनौती होगी। पिछली बार दो वोट निरस्त भी हुए थे। सपा मुखिया अखिलेश यादव ने विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के समर्थन में गठबंधन के बचे वोटों को सहेजने के लिए रविवार की शाम विधायकों के साथ डिनर पर मंथन भी किया।

पांच विधायक यूपी से बाहर करेंगे मतदान
सभी सांसद दिल्ली में संसद भवन में ही मतदान करेंगे। पिछली बार तीन सांसदों ने लखनऊ में ही मतदान किया था। इस बार पांच विधायकों ने भी यूपी से बाहर मतदान की अनुमति ली है। नीलरतन पटेल अपना वोट केरल की राजधानी तिरुअनंतपुरम में डालेंगे। वहीं, प्रदीप कुमार, मुकेश चौधरी, ब्रजभूषण राजपूत और जियाउर्रहमान ने दिल्ली में मतदान की अनुमति ली है। रविवार को चुनाव आयोग से नियुक्त पर्यवेक्षकों ने मतदान स्थल का दौरा कर तैयारियां परखीं।

Copy

मतदान सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक चलेगा। तीन अलग-अलग टेबल मतदान स्लिप प्राप्त करने के लिए बनाए गए हैं। तिलक हॉल में निर्वाचक नामावली पर हस्ताक्षर करने के बाद विधायक को मतपत्र दिया जाएगा। आयोग की ओर से दिए गए पेन से वह अपने पसंदीदा उम्मीदवार के आगे वरीयता क्रम अंकित करेंगे और फिर वही पेन वापस कर देंगे।

यूपी में किसके पाले में कितने वोट?
एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को भाजपा गठबंधन के 273 विधायकों का समर्थन मिल रहा है। वहीं, गठबंधन के 66 सांसद भी उन्हें समर्थन दे रहे हैं। इनके अलावा द्रौपदी मुर्मू को सुभासपा के 6 विधायक, जनसत्ता दल के 2 विधायक, बसपा के एक विधायक एवं 10 सांसद और अन्य एक विधायक का समर्थन मिलता दिख रहा है।

संयुक्त विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को सपा गठबंधन के 118 विधायकों और 3 सांसदों का समर्थन मिलता दिख रहा है। इनके अलावा कांग्रेस के एक सांसद और 2 विधायक भी यशवंत सिन्हा को समर्थन दे रहे हैं।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News