जी -7 शिखर सम्मलेन के बीच में ही भड़के ट्रम्प ,जानिये क्यों बैठक छोड़ बीच में ही उठ गए

0

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अपनी जीत के बाद से ही किसी न किसी वजह को लेकर विवादों में रहते है |जहाँ एक तरफ पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा अभी तक लोगों के लोकप्रिय नेताओं की सूचि में है ,वहीं दूसरी तरफ डोनाल्ड ट्रम्प अभी भी अपनी जगह विश्व के लोकप्रिय नेताओं में नहीं बना पाए है |

जी -7 शिकार सम्मलेन में ट्रम्प ने बनाया भारत को निशाना
जी -7 सम्मलेन की बैठक में ट्रम्प उनके देश को लूट रहे राष्ट्रों पर भड़क पड़े |उन्होंने धमकाते हुए कहा कि ,अगर कोई भी देश अमेरिका की तरफ नाजायज़ रुख बारात रहा है तो हम उसके साथ व्यापार रोक देंगे |उन्होंने कहा ,””यह सिर्फ जी-7 की बात नहीं है… मेरा मतलब है कि हमारे पास भारत है, जहां कुछ दरें 100 फीसदी हैं… सौ फीसदी… और हम कुछ भी नहीं लेते… हम ऐसा नहीं कर सकते…”. अमेरिकी राष्ट्रपति ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, “हम ऐसी गुल्लक की तरह हैं, जिसे हर कोई लूट रहा है…” उन्होंने कहा, “हम ऐसा नहीं कर सकते… हम कई देशों से बात कर रहे हैं, हम सभी देशों से बात कर रहे हैं… और यह रोकना ही होगा… या हम उन देशों के साथ व्यापार को रोक देंगे… और यह काफी मुनाफा देने वाला जवाब होगा…”|

बात घुमा कर साफ़ शब्दों में सन्देश
डोनाल्ड ट्रम्प ने पहले ही एल्युमीनियम और स्टील के आयत पर शुल्क लगाकर अपने सबसे करीबी सहयोगियों कनाडा, यूरोपीय यूनियन और मैक्सिको को पहले ही नाराज़ कर दिया है |आपको बता दें कि ट्रम्प ने इसी साल दुनिया की सबसे महंगी बाइक्स में से एक हार्ले-डेविडसन पर आयत शुल्क लगाने को लेकर भारत की आलोचना की थी |ट्रम्प ने भारत को धमकाया था कि ,यहाँ अमेरिका में भी हजारों भारतीय मोटरसाइकिलों पर आयत शुल्क बढ़ा दिया जाएगा |ट्रम्प ने प्रधानमंत्री मोदी से हुई अपनी बात-चीत का ज़िक्र किया ,उन्होंने कहा कि , “एक महान सज्जन ने मुझे भारत से फोन किया और कहा कि हमने मोटरसाइकिलों पर दरों को घटा दिया है, और इसे 100 फीसदी तथा 75 फीसदी से घटाकर 50 फीसदी कर दिया है…|उन्होंने बाद में बात साफ़ करते हुए यह कहा कि मै  भारत को कोई दोष नहीं दे रहा हूँ ,लेकिन मेरा मानना है कि जहाँ कहीं भी इस तरह के मामले हों वहां हर मामले में हमारे बीच एक जैसा टैक्स होना चाहिए |ट्रम्प ने इस सम्मलेन के दौरान इन बातों का ज़िक्र करके बाकी राष्ट्रों को एक करारा सन्देश दिया है |

आपको बता दें कि ट्रम्प इस्त्ने क्रोधित हो गए थे कि बीच में ही जी -7 शिखर सम्मलेन छोड़ कर चले गए  |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × five =