क्या इस दीपावली भी प्रदूषण का स्तर रहेगा हाई ?

0
1hbdjhdjw
1hbdjhdjw

इस दिवाली पटाखे चलना हो सकता है हानिकारक, मौसम में हो रहे बदलावों की वजह से, दिवाली में पटाखे-आतिशबाजी और पराली जलाने से निकलने वाले धुएं की वजह से अक्टूबर का आखिरी सप्ताह बहुत ही दूषित होगा. दिल्ली-NCR की हवा से लोगों की सांसों को अभी और दिक्कत होने की आशंका है क्योंकि अक्टूबर महीने का आखिरी हफ्ता वायु प्रदूषण के मामले में सबसे बुरे दौर से गुजर सकता है।

अक्टूबर के चौथे सप्ताह में हवा की गति कम हो जाएगी. घटते तापमान के साथ नमी बढ़ेगी. इससे हवा में कण की मात्रा बढ़ेगी. इस वजह से प्रदूषण बढ़ेगा जो लोगों की सेहत के लिए हानिकारक होगा. अगर बारिश हो गई तो स्थिति और भी बिगड़ जाएगी।

हवा की दिशा अभी तक दक्षिण-पश्चिम की तरफ है यानी पंजाब और हरियाणा की तरफ से आने वाली हवाओं से पराली जलाने का धुआं भी आ रहा है. साथ ही गाड़ियों से निकलने वाला धुआं मुसीबत में इजाफा करेगा.

दिल्ली-NCR में GRAP (ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान) लागू हो चुका है जिसकी वजह से निर्माण कार्य पर भी प्रतिबंध,दिल्ली में ट्रकों के प्रवेश पर रोक और निजी यातायात के लिए ऑड-ईवन योजना का लागू होना, , डीजल जनरेटर के उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध,पटाखे जलाने पर रोक, कूड़ा जलाने पर दंड, पार्किंग शुल्क में 3 से 4 गुना वृद्धि जैसी तमाम चीज़ो पर सख्ती बरती गयी है।

यह भी पढ़ें : छोड़ दें धूम्रपान नहीं तो होगी ये यौन से सम्बंधित समस्या

दिल्ली राजधानी क्षेत्र में प्रदूषण का कोहरा देखा गया. दिवाली के दिन और उसके बाद यह स्तर बहुत ज्यादा बिगड़ने की आशंका जताई जा रही है.