PMC घोटालों की वजह से सिखों का हुआ ये नुक्सान, करतारपुर साहिब से जुड़ा है मामला !

0
PMC घोटालों की वजह से सिखो का हुआ ये नुक्सान करतारपुर साहिब से जुड़ा है मामला
PMC घोटालों की वजह से सिखो का हुआ ये नुक्सान करतारपुर साहिब से जुड़ा है मामला

आज पुरे देश में गुरु नानक देव जी का 555वां प्रकाश पर्व मनाया जा रहा है। आज बड़ी तादाद में हिन्दू श्राद्धलों करतारपुर कॉरिडोर होते हुए पाकिस्तान के गुरुद्वारा दरबार साहिब जा रहे है। लेकिन पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव (PMC) बैंक में हुए घोटाले की वजह करीब 1950 सिख करतारपुर नहीं जा पाए।

बैंक में बहुत से लोगो के पैसे फसे हुए है, इसका हर्ज़ाना उनकी श्रद्धा को चुकाना पड़ रहा है। आर्थ‍िक तंगी से सिख समुदाय के बहुत से लोग पाकिस्तान नहीं जा पाए। पीएमसी में करीब 4,355 करोड़ रुपये के कथि‍त घोटाले के बाद भारतीय रिजर्व बैंक ने उस पर तमाम तरह के प्रतिबंध लगा दिए थे. इसकी वजह से बैंक से सिर्फ 1000 रुपये निकासी की सीमा तय कर दी गई जिसकी वजह से ग्राहकों को काफी परेशानी हुई, हालांकि बाद में यह सीमा कई टुकड़ों में बढ़ाकर 50,000 रुपये तक कर दी गई।

यह भी पढ़ें : राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट का हो रहा है गठन

बहुत ही दुखद की बात है उन श्रद्धालु के लिए जो PMC बैंक के घोटाले की वजह से इस ऐतिहासिक तीर्थयात्रा का हिस्सा नहीं बन पा रहे है। लेकिन दुर्भाग्य से पीएमसी संकट की वजह से श्रद्धालु को करतारपुर जाने का मौका नहीं मिला, जो काफी निराशाजनक बात है। करीब 4 किमी लंबा यह कॉरिडोर पाकिस्तान के करतारपुर में स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब को भारत में पंजाब के गुरुदासपुर में स्थ‍ित डेरा बाबा नानक श्राइन से जोड़ता है. करतारपुर में गुरु नानक देव ने अपने जीवन के अंतिम साल गुज़ारे थे।