भारत की तरह पाकिस्तान नहीं कर पा रहा कोरोना वायरस से मुकाबला

coronavirus
coronavirus

भारत की तरह पाकिस्तान कोरोना वायरस से मुकाबला नहीं कर पा रहा है. भारत ने अपने नागरिकों को वापस लाने की मुहीम तेज कर रहा है तथा इसके साथ ही भारत ने चीन को भी मदद देने की बात की है. कोरोना वायरस से मुकाबला करने के लिए चीन को जिन उपकरणों की जरूरत है, भारत ने उनको वो उपकरण उपलब्ध कराने की पेशकश की. कोरोना वायरस की गंभीरता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि चीन जो पहले इसको छुपा रहा था. उसने भी माना है कि अभी इस बीमारी का भयानक रूप आना बाकी है. चीनी सरकार ने खुद माना है कि इस बीमारी से चीन में 2300 लोगों की मौत हो चुकी है. अंदाजा ये लगाया जा रहा है कि ये संख्या बहुत ज्यादा है. चीनी मीडिया इसको कम करके बता रही है.


काफी देशों के नागरिक इसकी चपेट में आ गए हैं. भारत अपने नागरिकों को भी निकाल रहा है तथा चीन को भी सहायता देने के लिए पूरी तरह से तैयार है. वहीं पाकिस्तान ने कोरोना वायरस से डरते हुए अपने नागरिकों की चिंता किए बिना चीन के लिए संचालित होने वाली उड़ानों को 15 मार्च तक के लिए एक बार फिर से निलंबित कर दिया है. इससे पहले भी पाकिस्तान ने चीन से उड़ान सेवा कुछ समय के लिए बंद कर दी थी.

यह भी पढ़े: मध्यप्रदेश सरकार का नसबंदी पर अजीबो गरीब आदेश


इसकी गंभीरता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation) ने कोरोना वायरस को वैश्विक स्वास्थ्य आपात स्थिति घोषित कर दिया है.