कर्ज में डूबे पाकिस्तान को अमेरिका से मदद की उम्मीद

0

आर्थिक संकट से जूझ रहें पाकिस्तान की वित्तीय हालत काफी ख़राब हो चुकी है। पाकिस्तान के ऊपर चीन का कर्ज़ काफी बढ़ चुका है। चीन से लिए कर्ज़ को वापस करने के लिए पाकिस्तान के पास कोई वित्तीय मजबूती नहीं है। इसलिए पाकिस्तान को उम्मीद है की अमेरिका उसकी वित्तीय मदद करेगा।

पाकिस्तान को नए कर्ज़ के लिए पुराने कर्ज़ की पुरी जानकारी देनी होगी : अमेरिका

हालांकि पाकिस्तान नें अपने वित्तीय संकट को दूर करने के लिए अमेरिका से मदद की मांग की है। हालांकि अमेरिका नें कहा है की पाकिस्तान को नया कर्ज़ लेने के लिए अपने पुराने कर्ज़ की पुरी जानकारी देनी होगी। पाकिस्तान नें अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष से वित्तीय सहायता का आग्रह किया है। अमेरिका नें कहा है की वह इन सभी मामलों में हर पहलू की बारीकी से जांच-परख करेंगे जिसमें पाकिस्तान की कर्ज़ स्थिति भी शामिल है।

यह भी पढ़ें :  पाकिस्तानी सेना नें फिर दिखाई अपनी बर्बरता, BSF जवान की गला रेत कर की हत्या

पाकिस्तान पर बढ़ रहा है कर्ज़ को बोझ

पाकिस्तान नें पहले से ही आईएमएफ और चीन से कर्ज़ा ले रखा है। कर्ज़ का बोझ उस पर इतना ज्यादा है की उसके लिए पुराने कर्ज़ को चुकाना आसान नहीं है। पाकिस्तान नें पहले से ही चीन से दुनियाभर का कर्ज़ ले रखा है। दुसरी तरफ़ पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति भी बहुत अच्छी नहीं है। अर्थव्यवस्था में पाकिस्तान पुरी तरह से फेल हो चुका है। ऐसे में कर्ज़ की रक़म को वापस कर पाना पाकिस्तान के लिए आसान नहीं होगा।