PAK vs ENG: ‘बूढ़े’ ने किया पाकिस्तान का शिकार, घमंड में चूर बाबर सेना का तोड़ा गुरूर, करियर पर लगाया शर्मनाक दाग

0
192


PAK vs ENG: ‘बूढ़े’ ने किया पाकिस्तान का शिकार, घमंड में चूर बाबर सेना का तोड़ा गुरूर, करियर पर लगाया शर्मनाक दाग

रावलपिंडी: 35 साल की उम्र पार होते ही क्रिकेटरों के संन्यास लेने का सिलसिला शुरू हो जाता है। तेज गेंदबाज तो इससे पहले भी क्रिकेट छोड़ देते हैं। बल्लेबाज जरूरत करियर को लंबा खींचने में सफल होते हैं लेकिन उनके टीम पर रहने पर सवाल तो उठने ही लगते हैं। 41 साल के ब्रैंडन मैकुलम इंटरनेशनल क्रिकेट संन्याल लेकर कोचिंग शुरू कर चुके हैं। उन्होंने कई सालों तक लीग क्रिकेट में कोचिंग की। अभी इंग्लैंड टेस्ट टीम के कोच हैं। इसी टीम में एक खिलाड़ी है जेम्स एंडरसन (James Anderson)। 40 साल की उम्र को पार कर चुके एंडरसन रुकने का नाम नहीं ले रहे।

पाकिस्तान का कर दिया खेल

जेम्स एंडरसन पर हमेशा सवाल उठता है कि वह एशियाई पिचों पर नाम के अनुरुप प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं। लेकिन रावलपिंडी टेस्ट में उन्होंने पाकिस्तान के खेल कर दिया। मैच की दूसरी पारी में एंडरसन ने 24 ओवर की गेंदबाजी में सिर्फ 36 रन देकर 4 विकेट लिये। इसमें सलामी बल्लेबाज इमाम उल हक और मोहम्मद रिजवान के विकेट भी शामिल थे। मैच के आखिरी सेशन में उन्होंने एक ही ओवर में जाहिद मोहम्मद और हारिस रउफ को आउट कर पाकिस्तान की हार लगभग पक्की कर दी। बल्लेबाजी के लिए आसान इस पिच पर उन्होंने 46 ओवर में 16 मेडल डाले और 88 रन देकर 5 विकेट झटके।

अभी संन्यास का प्लान नहीं

जेम्स एंडरसन ने 2003 में इंग्लैंड के लिए पहला टेस्ट खेला था। पाकिस्तान दौरे पर गई इंग्लैंड टेस्ट टीम में शामिल रेहान अहमद का जन्म 2004 में हुआ था। करीब 20 साल के अपने इंटरनेशनल करियर में एंडरसन ने 176 टेस्ट खेले हैं। सिर्फ सचिन तेंदुलकर (200) ने ही उनसे ज्यादा टेस्ट खेले हैं। एंडरसन के नाम 26 की औसत से 672 विकेट हैं। उनसे ज्यादा विकेट मुथैया मुरलीधरन (800) और शेन वॉर्न (708) के नाम दर्ज है। एंडरसन इसी साल अगस्त में कहा था कि अभी उनका संन्यास लेने का कोई प्लान नहीं है।

847 रन बनाकर हारा पाकिस्तान

पाकिस्तान के बल्लेबाजों ने इस मैच में 847 रन बनाए। पहली बार ऐसा हुआ है कि पाक टीम 800+ रन बनाने के बाद कोई मुकाबला हार गई। टीम एक समय जीत हासिल करती दिख रही थी। लेकिन 5वें दिन के अंतिम सेशन में कहानी पलट गई। पाकिस्तान के हाथ में 5 विकेट थे और टीम को जीत के लिए सिर्फ 86 रनों की जरूरत थी। अगले 11 रन बनाने में टीम ने सभी विकेट खो दिये और इंग्लैंड ने मैच 74 रनों से जीत लिया।

PAK vs ENG Test: इंग्लैंड ने पलटी हारी हुई बाजी, जीत की तरफ बढ़ रहे पाकिस्तान की शर्मनाक हारnavbharat times -PAK vs ENG: किस्मत हो तो नसीम शाह जैसी, आउट होने के बाद भी नहीं लौटना पड़ा पवेलियन!navbharat times -ENG vs PAK: 3 दिन, 7 शतक… पाकिस्तान की पिच है या पटरा, इंग्लिश गेंदबाज भी कर रहे तौबा-तौबा



Source link