कोचिंग सेंटर में आग लगने से मासूमों की हुई दर्दनाक मौत

0

सूरत के सरथाना में 20 मासूमों की दर्दनाक मौत हो गई है, ये हादसा अग्निकांड तक्षशिला आर्केड बिल्डिंग के उस फ्लोर पर हुआ, जो गैरकानूनी तरीके से बनाया गया था, मालूम हो कि इस फ्लोर की छत को फाइबर से बनाया गया था , फाइबर में आग लगने की वजह से ये दुर्धटना हुई है और फाइबर में लगी आग पर काबू पाने की कोशिश भी की गई, लेकिन फाइबर पर लगी आग पर काबू नही पाया जा सका. जिसके बाद लगभग 19 दमकल की गाडियों को बुलाया गया. ताकि आग पर काबू पाया जा सके.


बता दें कि सूरत के सरथाना में स्थित तक्षशिला कॉम्प्लेक्स में कोचिंग सेंटर भी चलता है, जिसमें शुक्रवार को बच्चे हर रोज कि तरह पढ़ने आए थे. शायद उन्हे इस बात की भनक भी नही थी कि ऐसा हादसा होगा और आग कि लपटों में उनके साथ उनके सपने भी जलकर खत्म हो जाएगें. मालूम हो कि इस हादसे की विडियों को बनाकर बहुत ज्यादा वायरल किया गया है. जिसमें साफ नजर आ रहा है कि कुछ बच्चों ने घबराहट के कारण बिल्डिंग से छलांग लगा दी है . आग इतनी भयकर थी कि बुझाने के लिए दमकल की गाड़ियों को लगाना पड़ा.


हालांकि आग के लगने के बाद इस मामले कि जानकारी स्थानीय लोगों ने सरथाना पुलिस स्टेशन को दे दी थी. फिलहाल इस मामले पर एफआईआर दर्ज की जा चुकी है. आईपीसी की धारा 304-बी के तहत मामला दर्ज किया गया है. इस मामले की जांच सूरत क्राइम ब्रांच के एसीपी को सौंपी गई है.


इस घटना के हो जाने के बाद प्रशासन ने सूरत में ट्यूशन क्लास पर प्रतिबंध लगा दिया है. वहीं फायर डिपार्टमेंट की एनओसी मिलने के बाद ही इस ट्यूशन क्लास को चलाया जाएगा. हांलाकि कोचिंग सेंटर को चला रहे संचालक समेत 2 को हिरासत में लिया गया है.


बता दें कि गुजरात के सीएम विजय रुपाणी ने इस घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं. देर शाम सीएम ने अस्पताल जाकर घायलों से मुलाकात की. इसके बाद उन्होंने कहा, सीढ़ियों के पास लगी आग के कारण कई लोग बिल्डिंग की चौथी मंजिल से कूद गए. सीएम ने मरने वालों के परिवारवालों को 4 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है.


वहीं अहमदाबाद म्युनिसिपल कमिश्नर विजय नेहरा ने कहा, अगर हमें हादसों से बचना है और लोगों की जिंदगियां बचानी है तो हमें कुछ कड़े फैसले लेने होंगे. मैंने अहमदाबाद म्युनिसिपल कॉरपोरेशन के अफसरों को अगले आदेश तक शहर की सभी ट्यूशन क्लासेज को बंद करने का आदेश दिया है. इस घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस चीफ राहुल गांधी, सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव समेत अन्य पार्टियों के नेताओं ने शोक जताया.

श दे दिए हैं. देर शाम सीएम ने अस्पताल जाकर घायलों से मुलाकात की. इसके बाद उन्होंने कहा, सीढ़ियों के पास लगी आग के कारण कई लोग बिल्डिंग की चौथी मंजिल से कूद गए. सीएम ने मरने वालों के परिवारवालों को 4 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है.


वहीं अहमदाबाद म्युनिसिपल कमिश्नर विजय नेहरा ने कहा, अगर हमें हादसों से बचना है और लोगों की जिंदगियां बचानी है तो हमें कुछ कड़े फैसले लेने होंगे. मैंने अहमदाबाद म्युनिसिपल कॉरपोरेशन के अफसरों को अगले आदेश तक शहर की सभी ट्यूशन क्लासेज को बंद करने का आदेश दिया है. इस घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस चीफ राहुल गांधी, सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव समेत अन्य पार्टियों के नेताओं ने शोक जताया.