Padma Shri Dulari Devi: अस्पताल में सर्टिफिकेट के लिए लाइन में खड़ी मिलीं बिहार की पद्मश्री दुलारी देवी, लोग बोले- सादगी को सलाम

0
19

Padma Shri Dulari Devi: अस्पताल में सर्टिफिकेट के लिए लाइन में खड़ी मिलीं बिहार की पद्मश्री दुलारी देवी, लोग बोले- सादगी को सलाम

Padma Shri Dulari Devi News: आज के दौर में अगर किसी को किसी काम के लिए लाइन में लगने को कह दे तो उसका पारा चढ़ जाता है। फौरन जेब से मोबाइल फोन और मुंह से निकलता है कि ‘मेरे चाचा यहां के विधायक हैं’। लेकिन मधुबनी की पद्मश्री दुलारी देवी की एक फोटो को लोग देखकर कह रहे हैं कि सादगी हो तो ऐसी।

 

मधुबनी: बिहार में अगर आप किसी काम से सरकारी दफ्तर में गए हों तो लाइन में लगने के दौरान एक वाकया तो आपके सामने जरूर पेश आया होगा। जैसे कोई लाइन में लगने से पहले जेब से मोबाइल फोन निकाले और कहीं कॉल लगाकर बोले कि ‘कहां फंसा दिया है, यहां लाइन में लगना पड़ा। फलां को फोन लगाओ और बताओ कि मैं कौन हूं? मैं लाइन में लगकर काम नहीं कराउंगा।’ इतना कहने के बाद वो शख्स लाइन से निकल जाता है और अपने पैरवीकार के फोन का इंतजार करता है। फिर जैसे ही फोन आता है वो लाइन से हटकर पहले ही काउंटर तक पहुंच जाता है। पीछे से आपत्ति जताए जाने के बावजूद वो अपना काम कान में तेल डालकर करा ले जाता है। खैर, इसी बीच एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जिसे देख लोग भी बोल रहे हैं कि भाई सादगी हो तो ऐसी। बात तो लोग करेंगे ही जब एक पद्मश्री पुरस्कार विजेता लाइन में लगकर अपना काम कराए।

मधुबनी की पद्मश्री दुलारीदेवी: सादगी हो तो ऐसी
बिहार में मधुबनी जिले की दुलारी देवी को आज कौन नहीं पहचानता। घरों में बर्तन मांजकर-झाड़ू पोंछा करके मधुबनी की दुलारी देवी ने मधुबनी पेंटिंग बनाने में अपनी जी-जान झोंक दी। सरकार ने उन्हें उनकी इस लगन और मेहनत के लिए पद्मश्री पुरस्कार से नवाजा है। लेकिन दुलारी देवी में इतना बड़ा पुरस्कार मिलने के बाद भी रत्तीभर घमंड नहीं है। सोशल मीडिया पर विष्णु झा नाम के एक शख्स ने उनकी एक फोटो ट्वीट की है जिसमें वो मधुबनी सदर अस्पताल में लाइन में लगी हुई हैं।
Padma Awards 2021: मधुबनी की ‘दुलारी’ को यूं ही नहीं मिला पद्मश्री, जो हाथ लिखना नहीं जानते थे उन्होंने चित्रों से रच दिया इतिहास
इस ट्वीट में विष्णु झा ने लिखा है कि ‘हाल ही में मधुबनी सदर अस्पताल से मेडिकल सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए भीड़ भरी कतार में पद्मश्री दुलारी देवी को देखकर दुख हुआ। हालांकि, जब मैंने इस पर उनकी टिप्पणी मांगी तो उन्होंने इसके बारे में कहा कि उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई। उन्होंने कहा कि लोग यहां जरूरी काम के लिए आते हैं, उनका लाइन में खड़ा होना कोई बड़ा मुद्दा नहीं है। उनकी महानता को सलाम!’

Copy

आसपास के शहरों की खबरें

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें

Web Title : Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News