अयोध्या फैसले पर ‘आपत्तिजनक टिप्पणी’ करना युवक को पड़ा भारी

0
1
अयोध्या फैसले पर 'आपत्तिजनक टिप्पणी' करना युवक को पड़ा भारी

अयोध्या मामले पर आने वाले फैसले से पहले इसे लेकर फेसबुक पर आपत्ति जनक टिप्पणी करने वाले युवक को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया है. जिसकी पहचान संजय रमेश्वर शर्मा के रूप में की गई है. पुलिस ने इस मामले पर जांच पड़ताल किया है. जिसमें पता चला है कि इस पोस्ट को शुक्रवार की शाम को अपने फेसबुक में पोस्ट किया गया था और उस पोस्ट में अयोध्या पर आने वाले फैसले को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी.

पुलिस का कहना है कि उसमें लिखा गया था कि हम फैसला आने के बाद एक बार फिर दिवाली मनाएंगे. जिसके बाद पुलिस ने संजय के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है. बता दें कि अयोध्या में विवादित भूमि को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की पीठ अपना पैसला सुनाने वाली है.

इस फैसले से पहले पीएम मोदी और उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने आम लोगों से फैसले के बाद शांति बनाए रखने की अपील भी की है. इस फैसले के मद्देनजर अयोध्या समते देश के कई हिस्सों की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है. उत्तर प्रदेश पुलिस ने इस दौरान किसी तरह की अफवाह फैलाने वालों पर नकेल कसने की भी तैयारी की है.

उत्तर प्रदेश पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने सोशल साइट्स पर निगरानी को लेकर एक अपील जारी की है. उन्होंने अपनी अपील में आम लोगों से सोशल साइट्स पर आने वाले किसी भी मैसेज को आगे बढ़ाने से पहले उसकी सत्यता जांचने का अनुरोध किया है. साथ ही लोगों से ऐसे मैसेज को आगे बढ़ाने से बचने की बात भी की है. उन्होंने अपनी अपील में कहा है कि प्रिय प्रदेशवासियों जैसा कि आप सबको पता है कि अयोध्या मामले में शनिवार को सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की बेंच का फैसला आ जाएगा.

इसी के साथ यह भी अपील की गई है कि किसी तरह का इस मामले पप मैसेज फॉरवर्ड न करें. इससे सचेत करवाया है. इसी के साथ इस पर सतर्क रहने की बात की गी है, बताते चले कि आपके द्वारा किया गया. एक गलत मैसेज लाखों लोगों के लिए मुसीबत का सबब और प्रदेश के माहौल को खराब करने का कारण बन सकता है.

यह भी पढ़ें : क्या सुप्रीम कोर्ट के इस कदम से प्रदूषण का स्तर होगा कम ?

जिसके जिम्मेदार पूरी तरह से आप होंगे. उत्तर प्रदेश पुलिस सोशल मीडिया (व्हाट्सएप, फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब आदि) पर पूरी निगरानी रखी जा रही है. वहीं केंद्र सरकार ने अयोध्या समेत देश के सभी संवेदनशील इलाकों में सुरक्षा चाकचौबंद कर दी है. सूत्रों के अनुसार कहा जा रहा है कि CJI रंजन गोगोई की सुरक्षा को Z श्रेणी कर दी गई है.