ऐसे क्या नए नियम लाई सरकार, जिसको सुनकर आम जनता को लग सकता है झटका ?

0
POLICY
ऐसे क्या नए नीति लाई सरकार, जिसको सुनकर आम जनता को लग सकता है झटका

सरकार ने किये नियमों में कुछ नए बदलाव, ऐसे नए नियम लागू किये गए जिसका असर आम आदमी पर पड़ने वाला है, बैंकिंग सेक्टर के नियमों पर ऐसे खास बदलाव किये गए है जिसका असर SBI के ग्राहकों की जेब पर पड़ने वाली है. नए नियमों के मुताविक सिलिंडर हुआ महंगा, डिजिटल पेमेंट हुई अनिवार्य। 1 नवम्बर से बैंकिंग सेक्टर, ऑनलाइन शॉपिंग और डिजिटल पेमेंट में काफी बदलाव देखे जाएंगे। जानते है सरकार की यह नई नीतियां कैसे करेगी आम जनता को प्रभावित।

डिजिटल पेमेंट हुई अनिवार्य :

नवंबर से यह अनिवार्य हो गया है की बड़े कारोबारियों को अब पेमेंट डिजिटल मोड से ही करनी होगी। ये नियम खासकर उन कारोबारियों के लिए है, जिनका सालाना टर्न ओवर 50 करोड़ रुपये से अधिक है. इसके लिए अब डिजिटल पेमेंट पर मर्चेंट डिस्काउंट रेट (MDR) की वसूली नहीं की जाएगी.

इंटेरसेस्ट रेट हुआ कम :
स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) ने 1 नवंबर 2019 से डिपॉजिट पर ब्याज दर में कटौती कर दी है। 9 अक्टूबर को SBI ने ऐसा फैसला लिया की ब्याज दर में कटौती की जाएगी। लेकिन लागू 1 नवंबर से करने का ऐलान किया गया था. अब एसबीआई में 1 लाख रुपये के डिपॉजिट फंड पर ब्याज दर 0.25 फीसदी से घटाकर 3.25 फीसदी कर दी गई है. हालांकि सेविंग अकाउंट में 1 लाख रुपये से ज्यादा बैलेंस हैं तो उस पर ब्याज रेपो रेट के मुताबिक ही मिलेगा.

बैंक की टाइमिंग में हुआ बदलाव :
महाराष्ट्र में 1 नवंबर से सभी बैंकों के खुलने और बंद होने यानी कामकाज का समय एक कर दिया गया है. अब महाराष्ट्र में सभी सरकारी बैंक सुबह 9 बजे खुलेंगे और शाम 4 बंद होंगे. दरअसल पिछले दिनों वित्त मंत्रालय ने देश में सभी बैंकों के कामकाज के लिए एक ही टाइम करने का निर्देश जारी किया था

सिलिंडर हुआ महंगा :
खबर ऐसी भी है की एक नवंबर से 76.5 रुपये महंगा हो सकता बिना-सब्सिडी वाला गैस सिलिंडर, वहीं मुंबई और चेन्नई में 14.2 किलो के बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर का दाम क्रमश: 651 और 696 रुपये है.दिल्ली में भी सिलिंडर के दामों में बढ़ोतरी हुई है 14.2 किलो के बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर के लिए ग्राहकों को 681.50 रुपये चुकाने पड़ेंगे.

डिस्काउंट पर भी लगी रोक :
फेस्टिवल सीजन में मिले बम्पर तोर डिस्काउंट के बाद 1 नवंबर से से सारे ऑफर बंद कर दिये जाएंगे। कार-बाइक की खरीदारी पर ऑटो कंपनियां बड़ी छूट दे रही थीं. लेकिन अब यह छूट बंद कर दी गई। लंबे समय तक डिस्काउंट मिल पाना पाना संभव नहीं है.

यह भी पढ़ें : जानिए किस शिवसेना के नेता को मिली जान की धमकी ?