नमो ऐप को संबोधित करते हुए पीएम मोदी बोले डिजिटल इंडिया है दलाली रोकने का अभियान

1

नई दिल्ली:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नमो ऐप के जरिए लाभ प्राप्त करने वाले लोगों से आज बातचीत की. उन्होंने कहा कि डिजिटल इंडिया का उद्देश ही देश के लोग, युवाओं और ग्रामीणों को डिजिटल इंडिया से जोड़ने का है. इस कार्यक्रम का मतलब भारतीय जनता को इसके तरफ प्रेरित करने से है. आगे कहा कि सत्ता में आने के बाद से ही हमारा ध्यान देश के ग्रामीण इलाकों और महिलाओं को सशक्त करने से है. इसके लिए उन्होंने तीन लाख कॉमन सर्विस सेंटर खोले है, ताकि इस तकनीक का फायदा सभी वर्ग के लोग उठा सकें.

मोदी ने कहा कि आज स्कूल के छात्र सिर्फ किताबों की दुनिया तक ही सीमित नहीं है, जब से डिजिटल इंडिया अभियान शुरू हुआ है, तकनीक के इस्तेमाल से छात्र अब इंटरनेट का प्रयोग करके भी किताबों को पढ़ पा रहें है. यह सब संचार क्रांति की वजह से संभव हो सका है. आज डिजिटल के माध्यम से काफी चीजें जो एक समय पर संभव नहीं थी वो भी आज के दौर पर संभव हो गई है, जैसे रेलवे टिकट बिना लाइन लगे बुक की जा सकती है. रसोई गैस बिना घंटों लाइन में लगे मिल सकती है. पीएम मोदी ने कहा कि डिजिटल इंडिया दलाली को रोकने का अभियान है. इस अभियान से दलाल और बिचौलिये परेशान हो गये हैं.

यह भी पढ़ें: पीएम नरेंद्र मोदी एक दिवसीय दौरे पर पहुंचे रायपुर, इंटीग्रेटेड कमांड एण्ड कंट्रोल सेंटर का किया उद्घाटन

रविशंकर प्रसाद का ट्वीट

बता दें कि नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम से एक दिन पहले यानि गुरुवार को केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने अपने ट्वीट कर कहा कि चाहे अमीर या गरीब, शहरी या ग्रामीण, युवा या बुढ़े सभी वर्ग के लोगों को डिजिटल प्रौद्योगिकी से फायदा पहुंचा है. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी 15 जून 2018 को ऐसे लोगों से वार्ता करेंगे जिन के जीवन में डिजिटल इंडिया अभियान के बदौलत कुछ बदलाव आया.

उज्ज्वला योजना के लाभार्थियो को भी संबोधित किया

इस कार्यक्रम के दौरान मोदी ने देशभर के उज्ज्वला योजना के लाभार्थियो को भी संबोधित किया. मोदी ने मुद्रा योजना के लाभार्थियों से इस अवसर पर बातचीत की थी. उन्होंने इस योजना के बारे में कहा था कि इससे संभावनाओं के नये रास्ते खुले हैं और लोगों को नौकरियां के अवसर भी मिल रहें हैं.

यह भी पढ़ें: भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के फिटनेस चैलेंज का कुछ लाजवाब अंदाज में दिया पीएम मोदी ने जवाब

वहीं एक लाभार्थी ने पीएम मोदी से बातचीत के उपरांत नोटबंदी के समय को साझा करते हुआ कहा कि डिजिटल पेमेंट की वजह से ही उन्हें नोटबंदी के समय परेशानी नहीं हुई और भीम एप से उन्हें काफी आसानी हुई.

 

 

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 + 14 =