Nalanda News: उपेंद्र कुशवाहा से अलग पत्नी स्नेह लता के सुर, जानिए सीएम नीतीश कुमार का क्यों किया समर्थन?

3
Nalanda News: उपेंद्र कुशवाहा से अलग पत्नी स्नेह लता के सुर, जानिए सीएम नीतीश कुमार का क्यों किया समर्थन?

Nalanda News: उपेंद्र कुशवाहा से अलग पत्नी स्नेह लता के सुर, जानिए सीएम नीतीश कुमार का क्यों किया समर्थन?

जेडीयू से नाता तोड़ चुके उपेंद्र कुशवाहा की पत्नी स्नेह लता ने बड़ा राजनीतिक बयान दिया। स्नेह लता ने अपने पति उपेंद्र कुशवाहा से अलग सीएम नीतीश कुमार की नीतियों का समर्थन किया। राष्ट्रीय लोक जनता दल के राजगीर चिंतन शिविर में स्नेह लता ने शराबबंदी को बेहतर बताया है।

 

हाइलाइट्स

  • स्नेह लता ने कार्यकर्ताओं से शराबबंदी को सफल बनाने की अपील की
  • उपेंद्र कुशवाहा ने शराबबंदी पर पुनर्विचार की मांग की
  • तीन दिवसीय चिंतन शिविर राजनीतिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण
नालंदाः जेडीयू से उपेंद्र कुशवाहा ने अपना नाता तोड़ लिया हैं। इसके बाद से वे लगातार सीएम नीतीश कुमार की नीतियों का विरोध का रहे हैं। लेकिन उपेंद्र कुशवाहा की पत्नी स्नेह लता ने सीएम नीतीश कुमार का समर्थन किया। राजगीर में राष्ट्रीय लोक जनता दल की ओर आयोजित तीन दिवसीय चिंतन शिविर में स्नेह लता ने नीतीश कुमार की नीतियों का समर्थन किया। उन्होंने बिहार में लागू शराबबंदी को समाज के लिए बेहतर बताया। स्नेह लता ने कहा कि एक दूसरे पर आरोप या दोष लगाने के बजाय गांव-गांव जाकर लोगों को जागरूक करने की जरूरत है। शराबबंदी से महिलाओं पर होने वाले घरेलू हिंसा में काफी कमी आई है।

स्नेह लता ने कार्यकर्ताओं से शराबबंदी को सफल बनाने की अपील की

उपेंद्र कुशवाहा की पत्नी स्नेह लता जहां शराबबंदी कानून का समर्थन कर रही हैं, वहीं इससे पहले उपेंद्र कुशवाहा लगातार शराबबंदी कानून पर सवाल उठाते हुए इस पर पुनर्विचार की मांग कर रहे हैं। अपने पति के विचारों से अलग स्नेह लता ने शराबबंदी कानून को सफल बनाने के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं से सहयोग का आग्रह किया। उन्होंने कार्यकर्ताओं को सलाह दी कि वे गांव-देहात जाकर लोगों को जागरूक कर शराबबंदी के फायदे से अवगत कराएं।

उपेंद्र कुशवाहा ने शराबबंदी पर पुनर्विचार की मांग की

राष्ट्रीय लोक जनता दल के चिंतन शिविर के पहले दिन पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने शराबबंदी का विरोध किया था। उन्होंने सीएम नीतीश कुमार से शराबबंदी के फैसले पर पुनर्विचार की मांग की थी। इससे पहले भी उपेंद्र कुशवाहा सीएम नीतीश कुमार को विभिन्न मुद्दों पर घेरने की कोशिश कर चुके हैं। वहीं, अब उनकी पत्नी स्नेह लता की ओर से शराबबंदी का समर्थन करने पर राजनीतिक हलकों में चर्चाओं का दौर शुरू हो सकता है।

तीन दिवसीय चिंतन शिविर राजनीतिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण

रालोजद के इस तीन दिवसीय चिंतन शिविर को राजनीतिक दृष्टिकोण से काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। उपेंद्र कुशवाहा चिंतन शिविर में अपने समर्थकों से विचार-विमर्श के बाद आगे की रणनीति का खुलासा कर सकते हैं।

आसपास के शहरों की खबरें

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News